ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
योगी सरकार के खिलाफ सपाइयों का हल्ला बोल, पुलिस व कार्यकर्ताओं में झड़प
September 21, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

सपा कार्यकर्ताओं ने रोजगार, कानून व्यवस्था समेत कई अन्य मुद्दों को लेकर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया. इस दौरान कार्यकर्ताओं द्वारा विरोध में नारेबाजी करते हुए तख्तियां लहराई गईं.

फतेहपुर: जिले में समाजवादी पार्टी कार्यकर्ताओं द्वारा सरकार के खिलाफ जोरदार प्रदर्शन किया गया. कार्यकर्ताओं ने यह प्रदर्शन जिले और प्रदेश में बिगड़ी कानून व्यवस्था, किसानों की समस्याएं, बिजली की समस्याओं सहित बेरोजगारी के मुद्दे को लेकर किया. इस दौरान कार्यकर्ताओं द्वारा कोरोना नियमों पालन न करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ाई गईं.

बता दें कि पहले से प्रस्तावित कार्यक्रम के तहत 21 सितंबर, सोमवार को जिले के समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं द्वारा पैदल मार्च निकालकर सरकार के खिलाफ विरोध प्रदर्शन किया गया. यह मार्च कार्यकर्ताओं द्वारा सपा कार्यालय से लेकर शादीपुर, पटेल नगर चौराहे होते हुए कलेक्ट्रेट तक निकाला जाना था. लेकिन पटेल नगर पहुंचते ही पुलिस बल द्वारा उन्हें आगे जाने से रोक दिया गया. इस दौरान प्रदर्शनकारियों द्वारा 'योगी तेरी तानाशाही नहीं चलेगी', 'योगी जब-जब डरता है पुलिस को आगे करता है' जैसे नारे लगाते हुए तख्तियां लहराई गईं.

इस दौरान आगे बढ़ने को लेकर प्रदर्शनकारियों और पुलिस बल के बीच हल्की झड़प भी देखने को मिली. लेकिन पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को वहीं से वापस लौटा दिया. यह विरोध प्रदर्शन सपा जिला अध्यक्ष विपिन यादव के नेतृत्व में निकाला गया. जिसमें पूर्व जिला अध्यक्ष सुरेंद्र सिंह यादव, वरिष्ठ सपा नेता हाजी रजा सहित बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं ने हिस्सा लिया.

सपा के वरिष्ठ नेता सुरेंद्र सिंह ने कहा कि हम लोग प्रदेश और जिले में किसानों, बेरोजगारी, बिजली की समस्या, लूट, हत्या, बलात्कार की बढ़ रही घटनाओं को लेकर शांतिपूर्ण तरीके से ज्ञापन देने जा रहे थे. लेकिन पुलिस बल का उपयोग करके हमें आगे नहीं जाने दिया गया. रास्ते में ही हमसे ज्ञापन ले लिया गया. इस सरकार में यह लोकतंत्र की हत्या की जा रही है. लोकतंत्र में सबको अपनी बात कहने का अधिकार होता है.