ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
विवाद सुलझाने पहुंची पुलिस टीम पर पूर्व महिला प्रधान के दबंग बेटों ने किया हमला, एक सिपाही घायल
August 23, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

 

सीतापुर।दीवार निर्माण का विवाद सुलझाने पहुंचे मानपुर थाने के दो सिपाहियों पर गांव की पूर्व महिला प्रधान के दबंग बेटों ने सहयोगियों संग मिलकर हमला कर दिया। दबंगों ने सिपाहियों की लाठी-डंडों से बुरी तरह पिटाई की। एक आरक्षी जख्मी हो गया। उसे जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया है। एसपी आरपी सिंह समेत कई थानों की पुलिस गांव पहुंच गई। मानपुर इलाके के फूलपुर निवासी जगन्नाथ द्वारा बनाई जा रही दीवार के पास गांव की ही पूर्व प्रधान श्याम सुंदरी पत्नी राम आसरे रास्ता मांग रही थीं। जिसके चलते शनिवार को विवाद हो गया था। इस पर जगन्नाथ ने पुलिस बुलाई थी। मानपुर थाने के सिपाही कर्मवीर व प्रदीप मामले को सुलझाने मौके पर गए थे। यहां पुलिसकर्मियों व महिला पूर्व प्रधान के बेटों में तकरार हो गई। बात बढ़ने पर पूर्व प्रधान के पुत्र सुनील कुमार व उसके 3-4 सहयोगियों ने मिलकर सिपाहियों पर हमला कर दिया। इन लोगों ने दोनों सिपाहियों पर डंडों से हमला कर दिया। सिपाही कर्मवीर को बुरी तरह से जख्मी हो गया है। दूसरे को मामूली चोट आई है। घायल सिपाही को सीएचसी मानपुर से जिला अस्पताल भेजा गया है।
इस दौरान थाने पर चल रही मीटिंग के दौरान सूचना होते ही सीओ लहरपुर पीयूष कुमार सिंह एसओ मानपुर राय साहब द्विवेदी पुलिस बल के साथ मौके पर पहुंचे। बाद में खैराबाद पुलिस समेत कई थानों की पुलिस घटना स्थल पर बुला ली गई। घटना की गंभीरता को देखते हुए गांव में पीएसी तैनात कर दी गई है।  विवाद से जुड़े लोग गांव से भाग गए हैं। अन्य लोग भी सहमे हैं। एसओ मानपुर ने बताया कि जांच की जा रही है। केस दर्ज कर कार्रवाई होगी। सिपाहियों पर हुए हमले के मामले में गांव की पूर्व महिला प्रधान के बेटे ने इन आरोपों को गलत बताया है। पूर्व प्रधान श्याम सुंदरी के पुत्र सुशील भार्गव ने बताया कि सिपाही ने उसकी बहन रेखा व मां को मारा पीटा है। दीवार के निर्माण में लगी सरिया से सिपाही को चोट आई है। एएसपी दक्षिणी नरेंद्र कुमार सिंह का कहना है कि मानपुर के फूलपुर गांव में दो पक्षों में गली को लेकर विवाद हुआ था। थाने से दो सिपाही मौके पर गए थे। इस बीच दोनों पक्षों में मारपीट होने लगी। दोनों पुलिसकर्मी उनको छुड़ाने में लग गए। इसी बीच एक सिपाही को डंडा लग गया। उसका इलाज करा दिया गया है। मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। इस मामले में 18 लोगों को हिरासत में लिया गया है। मौके पर शांति व्यवस्था बनी हुई है। गांव में पुलिस तैनात है।