ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
विद्युत विभाग के निजीकरण के विरोध में विद्युत विभाग के अधिकारियों कर्मचारियों ने पावर हाउस में किया धरना प्रदर्शन
September 3, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश


---- अभी तो यह चेतावनी मांगे पूरी ना हुई तो होगा बड़ा आंदोलन
बिंदकी फतेहपुर
निजीकरण के विरोध में विद्युत विभाग के अधिकारियों कर्मचारियों ने धरना प्रदर्शन किया इस बीच जमकर नारेबाजी की और चेतावनी दिया कि यदि सरकार ने निजी करण करने का फैसला वापस नहीं लिया तो आंदोलन और तेज कर दिया जाएगा।
      गुरुवार को नगर के समीप खजुहा रोड स्थित विद्युत उप केंद्र परिसर में विद्युत विभाग के अधिकारियों कर्मचारियों ने विद्युत विभाग के निजीकरण के विरोध में धरना प्रदर्शन किया और जमकर नारेबाजी करते हुए विरोध जाहिर किया इस मामले में विद्युत विभाग के एसडीओ प्रशांत शुक्ला ने कहा कि सरकार की नियत विद्युत विभाग का निजीकरण करने की है उन्होंने कहा कि सरकार इसकी शुरुआत पूर्वांचल विद्युत विभाग से करने की योजना बना रही है उसी का हम लोग विरोध जता रहे हैं उन्होंने कहा कि निजी करण के चलते हम लोगों के अलावा आम जनता भी परेशान होगी इस मामले में विद्युत विभाग के अवर अभियंता प्रमोद सिंह ने कहा कि यदि सरकार ने अपना फैसला वापस नहीं लिया तो आंदोलन और तेज कर दिया जाएगा वही अवर अभियंता अमित कुमार ने कहा कि अभी यह आंदोलन का शुरुआती दौर है आंदोलन आने वाले समय में और तीव्र रूप धारण कर सकता है जिसकी जिम्मेदारी सरकार की होगी अभी समय है सरकार अपने निर्णय को वापस ले ले इस मौके पर विद्युत विभाग के लाइनमैन सुरेश चंद्र प्रिंस मिश्रा के अलावा पवन संजय यादव धर्मेंद्र पंकज निषाद सुशील सैनी tg टू राजेश तमाम विद्युत विभाग के अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहे