ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
उत्तर प्रदेश में 360 से ज्यादा लोगों ने थामा आम आदमी पार्टी का दामन
September 2, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

 


सीएम योगी अपनी कार्य प्रणाली में करे बदलाव, सत्ता का अहंकार न करें:संजय सिंह

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में आम आदमी पार्टी का विस्तार लगातार हो रहा है रोज ही सैकड़ों की संख्या में लोग आम आदमी पार्टी से जुड़ रहे हैं। आज इसी क्रम में रामपुर के 360 से ज्यादा लोग आम आदमी पार्टी में शामिल हुए।
आज लखनऊ में संजय सिंह राज्यसभा सांसद एवं उत्तरप्रदेश प्रभारी, दिलीप पांडे जन-जन ऑक्सीजन कैंपेन के प्रभारी, सभाजीत सिंह प्रदेश अध्यक्ष आम आदमी पार्टी और वैभव महेश्वरी प्रदेश प्रवक्ता एवं लखनऊ जिला अध्यक्ष की मौजूदगी में रामपुर से मौजूदा वाइस चेयरमैन उत्तर प्रदेश कांग्रेस कमेटी (माइनॉरिटी सेल) और बरेली जोन के प्रभारी फैज़ल खान लाला ने आम आदमी पार्टी का दामन थामा।
फैज़ल खान लाला के साथ साजिद खा पूर्व सभासद, दानिश खाँ पूर्व सभासद, फिरासत खाँ पूर्व सभासद, आसिम मलिक प्रधान प्रत्याशी, डा. मौ.ज़फर सभासद प्रत्याशी/महासचिव, ज़ाहिद अंसारी सभासद प्रत्याशी, पप्पू असांरी सभासद प्रत्याशी, नसीम जाफरी पूर्व प्रंसीपल, छात्र नेता अब्दुल नईम खान, माजिद खान कोषाध्यक्ष प्लाईवूड एसोसिएशन, हुमायूँ खान उपाध्यक्ष अवामी एकशन कमेटी सहित रामपुर से 360 से ज्यादा लोग आम आदमी पार्टी में शामिल हुए।
संजय सिंह ने कहां कि युवा नेता फैजल खान लाला के जुड़ने से आम आदमी पार्टी और मजबूत होगी और जो हमारी लड़ाई है दलितों के हक़ की, पिछड़ो के हक़ की माइनॉरिटी के हक़ उसको और ऊर्जा और ताकत मिलेगी।
संजय सिंह ने यूपी के जंगलराज का जिक्र करते हुए कहा कि कल रायबरेली के लालगंज में एक दलित युवक की पुलिस हिरसत में पीट पीट कर हत्या कर दी गई। और जब आज आम आदमी पार्टी की एस सी एस टी विंग इस पर आवाज़ उठाई प्रदर्शन किया इसका विरोध किया तो बर्बरता से हमारे नेताओं को पीटा गया।
संजय सिंह ने कहा कि यूपी में क़ानून नाम की कोई चीज़ नही बची हैं। यूपी के थाने सीएम योगी के राज में दलितों के अत्याचार का केंद्र बन गए हैं। आगरा में 3 लोगों की हत्या हो गयी, हरदोई में 3 लोगो की ईट से कूच कूच कर हत्या कर दी गयी।
उन्होंने ने कहा कि योगी सरकार को शर्म करनी चाहिए ये लोग जाती और धर्म के आधार पर अपने ही लोगो से भेद भाव कर रहे हैं। आज डॉक्टर कफील खान के मामले में हाई कोर्ट का फैसला आया हैं जो योगी सरकार के चेहरे को बेनकाब करता हैं. हाई कोर्ट ने साफ कहा हैं कि कफील खान की स्पीच राष्ट्रीय एकता को मजबूत करती हैं और ऐसे आदमी पर आप रासुका लगा कर 6-7 महीने जेल में रखते हैं जो कि बहुत गलत हैं।
संजय सिंह ने कहा कि योगी जी आप अपने कार्य प्रणाली में बदलाव करिये, सत्ता का अहंकार सर पर मत चढ़ने दीजिये. लाठी के बल से हमारी आवाज़ को मत दबाने की कोशिश करिये। उन्होंने कहा कि आज जिस तरह से हमारे साथी इंद्रेश सोनकर को, विनोद कुमार बौध, ओमकार सिंह, विनोद खटिक, विनय कुमार को, तुषार को, ललित वाल्मिकी को, हरिशंकर, रामजी लाल सहित कई कार्यकर्ताओं को पीटा गया पुलिस के द्वारा इसका मै विरोध करता हूँ और इन सभी लोगो का मेडिकल करा कर इन पुलिस वालों के खिलाफ कार्यवाही करवाई जाएगी।
प्रदेश अध्यक्ष सभाजीत सिंह ने कहा कि उत्तर प्रदेश में दलितों पर बढ़ रहे एक के बाद एक अत्याचार चाहे वह लालगंज थाने में पुलिस द्वारा दलित युवक की हत्त्या का मामला हो, आगरा, हरदोई में ट्रिपल मर्डर का मामला हो इन सभी गम्भीर मामलों के ख़िलाफ़ आज लखनऊ में आम आदमी पार्टी  एससी/एस टी विंग ने जब योगी सरकार के विरोध में प्रदर्शन किया तो हमारे कार्यकर्ताओं पर योगी की निर्मम पुलिस लाठियां बरसाने का कार्य करती है। आज उत्तर प्रदेश में दलितों के ऊपर हो रहे उत्पीड़न पर सवाल उठना गुनाह हो गया है। आम आदमी पार्टी  एससी/ एसटी विंग के ऊपर हुए पुलिस द्वारा हुआ निर्मम बर्बरता बेहद निंदनीय हम इसकी भर्त्सना करते है।
पुलिस द्वारा आम आदमी पार्टी  एससी/ एस टी विंग कार्यकताओं पर लाठीचार्ज किये जाने पर कानूनी कार्यवाही करने का विचार करेगी।
आम आदमी पार्टी ये मांग करती हैं कि जो मामला लालगंज में हुआ हैं उसमे पीड़ित परिवार को 50 लाख का मुआवजा दिया जाए और रायबरेली के कप्तान को ससपेंड किया जाए और जो थाने के लोग इसमे शामिल हैं उनपर कारवाही कर जेल भेजा जाए।