ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
ठेका भांग का, लेकिन बिक रहा अवैध गांजा, प्रशासन मौन 
October 9, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

ठेका भांग का, लेकिन बिक रहा अवैध गांजा, प्रशासन मौन 

 

असोथर(फतेहपुर)।कस्बे में अवैद्य मादक पदार्थो की बिक्री धड़ल्ले से हो रही है। पुलिस जानते हुए भी मौन है। सरकारी भांग की दुकान में खुलेआम गांजा की बिक्री लोगों में चर्चा का विषय बनी हुई है।

कस्बे में गांजा का कारोबार विकराल रूप धारण किए हुवे है। गांजा माफियाओं ने इस नशे की चपेट में सैकड़ो युवाओं को इसे नशे का आदी बना दिया था। जिसके चलते कई परिवार इससे बर्बादी की कगार पर पहुंच गए थे। नशे के आदी लोग गांजा का सेवन करने लगे। गौरतलब हो कि समूचे कस्बा क्षेत्र में गांजा बेचने के चार पांच अड्डे हैं। जो लुक छिपकर अपना धंधा चला रहे है। लेकिन एक स्थान ऐसा भी है जहां भांग की दुकान का लाइसेंस है लेकिन वहां गांजे की बिक्री खुले आम हो रही है। इस दुकान में चाहे जो चला जाए उसे गांजे की पुड़िया उपलब्ध हो जाती है। गांजा पीने के शौकीन से मंहगा व घटिया गांजा बेचने पर जब विवाद की नौबत आई तो वहां बिक्री कर रहे सेल्समैन ने कहा कि तू चाहे जहां चला जा हर जगह पैसा पहुचाया जा रहा है। पहले थाने में 30000 जाता था अब 300000 जाता है लोगों का कहना है कि गांजा की खुली बिक्री पुलिस की मिली भगत हो रही है। इस मामले को जिलास्तरीय अधिकारियों को इस ओर ध्यान देना चाहिए।