ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
तालाबी रकबे मे बन गई आलीशान कोठियां
October 14, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

तालाबी रकबे मे बन गई आलीशान कोठियां


जिलाधिकारी अगर संज्ञान में लेने तो सरकार की करोड़ों की संपत्ति वापस मिल सकती है


बिंदकी फतेहपुर
अंधेर नगरी चौपट राजा वाली कहावत यहां चरितार्थ हो रही है जो जिसने चाहा वहां पर अपना कब्जा कर लिया उसके बाद आलीशान कोठियां बनवाली
 एक जमाना ऐसा था बचपन में लोग मुहल्ला जहान पुर स्थित मैं एक तालाब हुआ करता था जो कि लगभग 17 बीघे का था लो उसमें स्नान करते थे पशुपालक जानवरों को पानी पिलाते थे परंतु वर्तमान समय में उक्त तालाब अपनी दुर्दशा को देखकर आंसू बहा रहा है
जमीदारों ने तालाब का कुछ रकबा जोकि जाफराबाद में लगता है उसको एक टॉकीज के मालिक के हाथों कुछ जमीन का बैनामा हुआ था तथा कुछ समय तक तो टॉकीज चली परंतु जैसे-जैसे जमाना बदला टॉकीज का चलन बंद हो गया टॉकीज मालिक नहीं भू माफियाओं के हाथ अपनी जमीन बेच ली अब वहां तो आलीशान कोठियां बन गई हैं लोगों ने तालाब को चारों ओर से घेर रखा है तालाबी रकबे मैं कबजा कर क लोगों ने  मकान बनवा लिए हैं उक्त तालाब जाफराबाद मौजे में आता है परंतु वर्तमान समय में अकबरपुर दिखाया जा रहा है इसमें भी दाल में काला है अगर उक्त तालाब की उच्च अधिकारियों द्वारा नाप करा दी जाए तो सैकड़ों घर  तालाब के घेरे में आ जाएंगे।
बुजुर्ग बताते हैं कि एक समय था यह तालाब काफी बड़ा था लिखा पढ़ी में तहसील के नक्शे में 17 बीघा का तालाब था परंतु अब तालाब से तलैया बन गई है लोगों ने चारों ओर से घेर रखा है यह जमीन बहुत ही कीमती है अगर जिले के मुखिया जिला अधिकारी मौका मुआयना  करा कर ना तालाब की नाप करा दे तो दूध का दूध पानी का पानी हो जाएगा।