ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
स्वछ भारत मिशन को ठेंगा दिखते ग्राम प्रधान
September 2, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

 

गांव में गंदगी होने से बीमारी बढ़ने के आसार

फतेहपुर।  इस समय देश वैसे भी कोरोना संकट की घड़ी से गुजर रहा है और सरकार ने सख्त निर्देश दे रखे हैं कि संकट की घड़ी में हर जगह साफ सफाई होना चाहिए नगरों शहरों व गांव में साफ सफाई के साथ-साथ समय-समय पर सैनिटाइजर होना चाहिए जिससे कोई भी बीमारी ना फैल सके लेकिन सरकार के निर्देशों का खुला उल्लंघन हो रहा है कई कई महीने बीत जाते हैं गांव में सफाई नहीं हो पाती है तथा गांव की नालियां इस बरसात में चोक हो जाने के कारण पानी एकत्रित हो जाता है और बीमारी के कीटाणु उस एकत्रित पानी में धीरे धीरे पैदा होने लगते हैं जो बीमारी का  रूप धारण कर लेते हैं जिससे गांव में इस समय हर जगह बीमारी फैल रही है आपको बता दें ताजा मामला ब्लॉक विजयीपुर  के कई गांवों का है आपको बता दें हम  ब्लॉक विजयीपुर के मदद अलीपुर मजरे रामपुर आदर्श गांव की बात कर रहे हैं जहां पर करीब कई महीनों से गांव में साफ सफाई नहीं हुई है जिससे वायरस फैलने का खतरा ज्यादा है और थाना क्षेत्र के दर्जनों गांव में इस समय बीमारी ज्यादा ही चल रही है जहां साफ सफाई एवं एंटी लारवा का छिड़काव होना जरूरी है लेकिन गांव के जिम्मेदार नागरिक इस विषय पर ध्यान नहीं दे पाते हैं और ग्राम मदद अली पुर में बरसात के इस मौसम में जगह जगह पर कीचड़  व जलभराव है जो सफाई कर्मचारी के ना आने से गंदगी भरी पड़ी है गांव के प्रधान भी इस गंदगी को देखकर नहीं साफ करवा रहे हैं जिससे संक्रमण बीमारी फैलने का प्रभाव गांव में ज्यादा है गांव वालों ने बताया की सफाई कर्मचारी के ना आने से खरिंजा के ऊपर पानी  बहता रहता है है और हम लोगों को इस बरसात के पानी के ऊपर से घुसकर आना जाना पड़ता है गांव वालों ने बताया कि हमें आने जाने में बहुत ही ज्यादा कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है उन्होंने यह भी कहा की हमारे बच्चे हमारे घर की औरतें जब रास्ते से निकलती हैं तो कई बार हादसे का शिकार भी हो चुकी हैं गांव वालों ने यह भी बताया अगर अचानक कोई समस्या गांव में हो जाती है तो ना ही एंबुलेंस आ पाती है और ना तो कोई भी साधन गांव के अंदर आ पाता है देश वैसे भी कोरोना संकट की घड़ी से गुजर रहा है और सरकार ने सख्त निर्देश दे रखे हैं कि संकट की घड़ी में हर जगह साफ सफाई होना चाहिए नगरों शहरों व गांव में साफ सफाई के साथ-साथ समय-समय पर सैनिटाइजर होना चाहिए जिससे कोई भी बीमारी ना फैल सके लेकिन सरकार के निर्देशों का खुला उल्लंघन हो रहा है कई कई महीने बीत जाते हैं गांव में सफाई नहीं हो पाती है तथा गांव की नालियां इस बरसात में चोक हो जाने के कारण पानी एकत्रित हो जाता है और बीमारी के कीटाणु उस एकत्रित पानी में धीरे धीरे पैदा होने लगते हैं जो बीमारी का  रूप धारण कर लेते हैं जिससे गांव में इस समय हर जगह बीमारी फैल रही है आपको बता दें ताजा मामला ब्लॉक विजयीपुर  के कई गांवों का है आपको बता दें हम  ब्लॉक विजयीपुर के मदद अलीपुर मजरे रामपुर आदर्श गांव की बात कर रहे हैं जहां पर करीब कई महीनों से गांव में साफ सफाई नहीं हुई है जिससे वायरस फैलने का खतरा ज्यादा है और थाना क्षेत्र के दर्जनों गांव में इस समय बीमारी ज्यादा ही चल रही है जहां साफ सफाई एवं एंटी लारवा का छिड़काव होना जरूरी है लेकिन गांव के जिम्मेदार नागरिक इस विषय पर ध्यान नहीं दे पाते हैं और ग्राम मदद अली पुर में बरसात के इस मौसम में जगह जगह पर कीचड़  व जलभराव है जो सफाई कर्मचारी के ना आने से गंदगी भरी पड़ी है गांव के प्रधान भी इस गंदगी को देखकर नहीं साफ करवा रहे हैं जिससे संक्रमण बीमारी फैलने का प्रभाव गांव में ज्यादा है गांव वालों ने बताया की सफाई कर्मचारी के ना आने से खरिंजा के ऊपर पानी  बहता रहता है है और हम लोगों को इस बरसात के पानी के ऊपर से घुसकर आना जाना पड़ता है गांव वालों ने बताया कि हमें आने जाने में बहुत ही ज्यादा कठिनाइयों का सामना करना पड़ता है उन्होंने यह भी कहा की हमारे बच्चे हमारे घर की औरतें जब रास्ते से निकलती हैं तो कई बार हादसे का शिकार भी हो चुकी हैं गांव वालों ने यह भी बताया अगर अचानक कोई समस्या गांव में हो जाती है तो ना ही एंबुलेंस आ पाती है और ना तो कोई भी साधन गांव के अंदर आ पाता है।