ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
श्री भगवानदीन स्मारक इण्टर कालेज जाफरपुर सिठर्रा जहानाबाद प्रबन्धक ने परीक्षार्थियों को सफलता की कालेज में दी बधाई
June 29, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश


जहानाबाद/फतेहपुर
फतेहपुर जनपद के अंतर्गत विकासखंड देवमई क्षेत्र के ग्राम जाफरपुर सिठर्रा स्थित श्री भगवानदीन स्मारक इंटर कालेज के छात्र छात्राओं मे लगभग एक दर्जन से अधिक छात्र छात्राओं ने विद्यालय टॉप आकर विद्यालय का नाम रोशन करने के साथ-साथ अपना तथा अपने परिजनों का नाम ऊंचा करने का काम किया है ग्रामीण क्षेत्र में जहां एक और मेधावी छात्र छात्राओं को उपयुक्त प्लेटफार्म नहीं मिलता था। ग्रामीण क्षेत्र में शहर जैसी सुविधाओं से परिपूर्ण विद्यालय श्री भगवानदीन स्मारक इंटर कॉलेज के छात्र छात्राओं ने अपने हुनर का कौशल कला प्रकाशित हुए उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा बोर्ड के रिजल्ट पर दिखाने का काम किया है। विद्यालय के लगभग एक दर्जन छात्र-छात्राओं ने 89% से अधिक अंक लाकर विद्यालय का नाम रोशन करते हुए जनपद में स्थान बनाने का काम किया है विद्यालय के संचालक प्रबंधक सुरेश कुमार पाल ने बताया विद्यालय की छात्रा अंजलि पटेल, अमृता यादव, नेहा देवी,सोनी देवी, राजेश कुमार, सोनिका देवी सहित छात्र अर्पित ,अमन कुमार, मोहम्मद इश्तियाक, अंकित कुमार, आरती सचान, रुचि देवी, अमितकुमार, अंकेश कुमार ने हाईस्कूल तथा इंटर पर 80% से लगाकर 89% तक अंक प्राप्त किए हैं विद्यालय के प्रबंधक ने बताया पिछले वर्षो की भांति इस वर्ष भी विद्यालय के छात्र छात्राओं ने अपना स्थान बनाने का काम किया है। तथा उन्होंने बताया विद्यालय में शहर जैसी सुविधाएं कंप्यूटरीकृत ऑनलाइन शिक्षा देने का काम कराया जा रहा है। उन्होंने बताया अटल टेकरिंग लैब की भी विद्यालय में स्थापना है जो अभी तक कस्बे स्तर के विद्यालयों में सुविधा प्राप्त नहीं है।वहीं उन्होंने बताया विद्यालय को अधिक से अधिक आधुनिक व्यवस्था से सुसज्जित करने का प्रथम लक्ष्य इस मौके पर विद्यालय पर आज जश्न का माहौल रहा छात्र छात्राओं को प्रबंधक व संचालक द्वारा मुंह मीठा करा कर उनकी मेधावी होने का इनाम दिया गया। विद्यालय के प्रबंधक ने बताया  निर्धन मेधावी छात्र छात्राओं को विद्यालय की तरफ से उच्च शिक्षा पर सहायता प्रदान की जाएगी। इस मौके पर छात्र छात्राओं के अभिभावक भी मौजूद थे।