ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
सर्दियों में बढ़ सकता है कोविड-19 का खतरा, ऐसे करें सामना
October 14, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

नई दिल्‍ली,Coronavirus Prevention Tips राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर हुए कई शोधों में यह आशंका जताई जा रही है कि वातावरण में नमी और ठंड बढ़ने से कोविड-19 का खतरा बढ़ सकता है। तापमान में आ रही कमी से कोरोना संक्रमण का प्रकोप बढ़ रहा है। पिछले कुछ सप्ताह से प्रतिदिन कोरोना संक्रमितों की संख्या में नाटकीय उतार-चढ़ाव आ रहे हैं। जानें क्‍या कहते है ग्रेटर नोएडा के एकेडमी ऑफ फैमिली फिजिशियंस ऑफ इंडिया के अध्यक्ष डॉ. रमन कुमार।

ठंड बढ़ा देगी खतरा: मुंबई स्थित इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी (आईआईटी) में हुए अध्ययन के अनुसार, नमी और उमस भरे मौसम में कोरोना वायरस के फैलने का खतरा बढ़ रहा है। वातावरण में नमी की मात्रा अधिक होने से संक्रमित व्यक्ति के खांसने और छींकने से निकले ड्रॉपलेट्स को सूखने में अधिक वक्त लगता है और इसमें मौजूद वायरस जल्दी से सूखकर नष्ट नहीं होता और संक्रमण फैलने का खतरा बढ़ जाता है। आईआईटी, भुवनेश्वर और एम्स के डॉक्टरों के संयुक्त अध्ययन में भी यही दावा किया गया कि सर्दी के मौसम में कोरोना वायरस तेजी से फैलेगा। घर के बने ताजे और संतुलित भोजन का सेवन करें। भोजन में हल्दी, जीरा, धनिया, काली मिर्च, अदरक और लहसुन जैसे मसालों को शामिल करें।वायरस फैलने के प्रमुख कारण: हाल ही में हुए शोध और अध्ययन से यह परिणाम भी सामने आए कि बंद कमरों में संक्रमण बढ़ने का खतरा बढ़ जाता है। आद्र्रता बढ़ने से एयरोसोल ट्रांसमिशन के लिए उपयुक्त परिस्थितियां बन जाती हैं। सर्दियों में तापमान कम होने से वायरस अधिक समय तक जीवित रह सकता है