ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
सरकार के "गड्ढा मुक्त प्देश"स्लोगन को आँखें दिखाता नउवाबाग,जेल मार्ग
October 4, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

सरकार के "गड्ढा मुक्त प्देश"स्लोगन को आँखें दिखाता नउवाबाग,जेल मार्ग

वर्षों से मरम्मती करण की आश लगाए आज गड्ढों मे तब्दील बद से बत्तर जिले की मुख्य नउवाबाग जेल रोड़ मार्ग जो धूल और ककरीली रेत के गुबार से लोगों का जीना दुर्ब

फतेहपुर।शहर का मुख्य बाईपास मार्ग जोकि नउवाबाग से शुरू होकर जिला जेल होता हुआ बाँदा टाँडा मार्ग  पर मिलता है आज मरम्मती करण के अभाव के कारण गड्ढों मे तब्दील हो चुका है। यूँ तो हर वर्ष पी.डब्ल्यू.डी. विभाग द्वारा प्रत्येक मार्गों हेतु लाखों रुपए आहरण एवं खर्च किए जाते हैं पर उक्त खर्च कागजों तक ही सीमित रहता है जमीनी हकीकत कुछ और नजर आती है।जगह-जगह गड्ढों मे तब्दील उक्त मार्ग क्षेत्र के वाशिंदों के लिए परेशानी का शबब बन गया है।दिन रात अनगिनत निकलने वाले ट्रको के पहियों से निकली धूल के गुबार सीधे घरों मे घुस कर सब कुछ तहस-नहस कर देते हैं  इसके अतिरिक्त साथ चल रहे साइकिल व मोटरसाइकिल सवारों के सामने सहसा धूल आने से मौत नजर आने लगती है।ताज्जुब इस बात का है कि उक्त मार्ग से जनपद के तमाम आला अफ्सरानो का प्रतिदिन आवा-गमन बना रहता है बावजूद आज तक किसी ने इस ओर ध्यान नहीं दिया है।
विभागीय कमीशन बाजी के चलते मार्गों का दुरुस्ती करण महज औपचारिकताओ तक सीमित होकर रह गया है क्योंकि मार्च महीने का अर्जेस्टमेन्ट भी इन्ही मार्गों को झेलना पड़ता है इसके अतिरिक्त संभागीय परिवहन विभाग की वसूली नीति के कारण ओवर लोड मोरम व गिट्टी लदे वाहनों की अनदेखी भी इसका प्रमुख कारण है जिसे सीधे रुप से आम नागरिकों को झेलना पड़ता है।प्रदेश सरकार द्वारा गढ्ढा मुक्त मार्ग का दावा इन मार्ग़ो को देखने के बाद बिल्कुल थोथा नजर आता है। कारण शायद योगी सरकार भी कागज़ों पर ही विश्वास करती है जिसमें सम्बन्धित अधिकारी गण पूरी तरह से निपुण ह़ो चुके हैं।
जबकि इन बिंदुओं के अतिरिक्त यह भी ज्ञातब्य है कि लाक डाउन के पूर्व कलेक्ट्रेट के गाँधी सभागार मे प्रदेश सरकार के लोक निर्माण विभाग के राज्य मंत्री चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय की मौजूदगी में अधिकारियों के बैठक के बीच भी उक्त मार्ग का मुद्दा उठाया गया था जिसमें अधिकारियों द्वारा उक्त मार्ग के  मरम्मती करण का आश्वासन दिया गय।