ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
समस्या और समाधान!डीएम ने साइबर तकनीक से निदान को दे रहे हैं गति
September 11, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

 

शिकायतों के निस्तारण में शिथिलता पर होगी कार्यवाही-संजीव सिंह

फतेहपुर।मुख्यालय में न रहकर कानपुर, लखनऊ या प्रयागराज जैसे महानगरों से अप-डाउन करने वाले 'खानाबदोश' मुलाजिमों पर  नकेल कसने के बाद  जन समस्याओं और उनके समयबद्ध समाधान के प्रति गंभीर जिलाधिकारी संजीव सिंह ने साइबर तकनीक का सहारा लिया है। बेहतर प्रशासन और सरकारी योजनाओं में पारदर्शिता बढ़ाने की मंशा से जिलाधिकारी संजीव सिंह के इस प्रयोग की खासी चर्चा है। इसके द्वारा आईजीआरआरएस सहित सीधे मिलने वाले शिकायती पत्रों को प्रकरण की गंभीरता और प्रकृति के अनुसार अधीनस्थ जिम्मेदार अधिकारी को निर्देश के साथ भेजे जा रहे हैं और जिलाधिकारी अपने मोबाइल में अलग-अलग फोल्डर में उन प्रार्थना पत्रों को सुरक्षित रखकर क्या  कार्यवाही हुई?इस पर नजर रख रहे हैं।आम जन की शिकायतों, समस्याओं और उनके सार्थक समाधान के प्रति जिलाधिकारी संजीव सिंह की संवेदनशीलता की लोग जमकर प्रशंसा कर रहे हैं। जिलाधिकारी संजीव सिंह ने बताया कि प्राय: जन शिकायतों या समस्याओं से सम्बंधित प्रार्थनापत्रों को रिमार्क करके निदान या जांच के लिये सम्बंधित अधिकारी को भेजा जाता है ।ऐसे अधिकांश मामलों में करता कार्यवाही हुई क्या निदान हुआ? इसकी जानकारी नहीं मिल पाती जबकि पीड़ित पक्ष समाधान या निदान के लिए आॅफिसों के चक्कर काटता और व्यवस्था को कोसता है।इसको ध्यान में रखते हुए ऐसी जन शिकायतों के शीघ्र और समुचित निराकरण के लिये यह प्रयास है। बताया कि शिकायती पत्रों को रिमार्क करके सम्बंधित विभाग को भेजा जाता है और शिकायती पत्र की फोटो लेकर भी सम्बन्धित को मोबाइल से भेजा जाता है ताकि समस्याओं  या शिकायतों के पत्रों का समयबद्ध समाधान किया जा सके।बताया कि  शिकायती पत्रों के निस्तारण की गति तेज हो और जन आकांक्षाओं को पूरा सम्मान मिले इसके लिये रिमार्क के साथ अलग-अलग फोल्डर्स में सुरक्षित रखते हुए ऐसे मामलों में कब और क्या कार्यवाही हुई? इसकी रेण्डम जांच भी की जा रही है।उन्होंने बताया कि जन शिकायतों या समस्याओं के समाधान में असंवेदनशील जिम्मेदार कर्मियों पर अनुशासनात्मक कार्यवाही की जायेगी।