ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
सामान्य सर्दी से लड़ने के लिए बनी कुछ एंटीबॉडी कोविड-19  के लिए जिम्मेदार वायरस को कर सकती है बेअसर
November 8, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

सामान्य सर्दी से लड़ने के लिए बनी कुछ एंटीबॉडी कोविड-19  के लिए जिम्मेदार वायरस को कर सकती है बेअसर

(न्यूज़)।सामान्य सर्दी से लड़ने के लिए बनी कुछ एंटीबॉडी कोविड-19  के लिए जिम्मेदार वायरस को बेअसर कर सकती है।एक नए अध्ययन में शोधकर्ताओं ने 16 साल से कम उम्र के उन 44 फीसदी बच्चों में इस बहुमुखी एंडीबॉडी की मौजूदगी दर्ज की, जो कोविड-19 से संक्रमित नहीं हुए थे।उन्होंने पाया कि इस एंटीबॉडी के कारण उन पर कोरोना वायरस प्रभावी नहीं हो पाया।हालांकि केवल पांच फीसदी बुजुर्गों में यह एंटीबॉडी पाई गई।फ्रांसिस क्रिक इंस्टीट्यूट और यूसीएल के शोधकर्ताओं ने कोरोना महामारी शुरू से होने से काफी पहले एकत्र किए गए रक्त के नमूनों में मौजूद एंटीबॉडी का अध्ययन कर यह दावा किया है। उनका जोर एंटीबाडी के उन प्रकारों का पता लगाने पर था जो अन्य अध्ययनों में नहीं देखी गई हों।उनका मकसद कोविड-19  के प्रति अत्यधिक संवेदनशील एंटीबाडी विकसित करना था, ले्किन इसी दौरान उन्हें इस खास एंटीबॉडी का पता चला।शोधकर्ताओं ने अपने प्रायोगिक परीक्षण के प्रदर्शन की गुणवत्ता की जांच करने के लिए कोविड-19 के मरीजों के रक्त की तुलना उन लोगों के रक्त से की जिन्हें यह बीमारी नहीं थी।उन्होंने कुछ लोगों के रक्त में ऐसी एंटीबॉडी की मौजूदगी देखी जो कोविड-19 के लिए जिम्मेदार सार्स-सीओवी-2 वायरस को पहचानने में सक्षम थीं।हालांकि ये लोग इस वायरस के संपर्क में कभी नहीं आए थे।