ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
रोटी गांव में कराया एंटी लार्वा का छिड़काव व फॉगिंग
August 23, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

अमौली(फतेहपुर)।अमौली ब्लॉक के रोटी गांव में संक्रमण से फैली बीमारियों को रोकने के लिए सीएचसी प्रभारी डॉक्टर पुष्कर कटियार के नेतृत्व एवं जिला मलेरिया अधिकारी के निर्देशन में स्वास्थ्य टीम ने एंटी लार्वा दवा व फॉगिंग मशीन से कीटनाशक दवाओं का छिड़काव पूरे गांव में कराया।
ग्रामीणों ने ग्राम प्रधान पर आरोप लगाते हुए कहा कि ग्राम प्रधान गाँव मे साफ-सफाई का कोई ध्यान नही देते हैं जिसके कारण संक्रमित बीमारी ने पूरे गाँव को अपने आगोश में ले लिया है। इन ग्रामीणों का कहना है कि अगर ग्राम प्रधान ने समय रहते हुए नालियों व सड़कों की साफ सफाई पर ध्यान दिया होता और समय-समय पर कीटनाशक दवाओं का छिड़काव कराया होता तो गाँव आज महामारी की चपेट में नही आता, जबकि शासन ने ग्रामीण क्षेत्रों में मच्छरों से निपटने के लिए हर ग्राम पंचायत को फॉगिंग मशीन और कीटनाशक दवाएं उपलब्ध कराई जाती है, लेकिन फॉगिंग मशीनें अक्सर ग्राम प्रधानों के घर की शोभा बढ़ाती हुई दिखाई पड़ती है। शासन-प्रशासन में बैठे लोग बड़े-बड़े दावे भले ही करते रहते हैं। मगर वास्तविकता यही है कि आम लोगों तक कोई राहत नहीं पहुँच पा रही है। शासन-प्रशासन मच्छरों से निपटने के लिए समय-समय पर फॉगिंग मशीन से गाँव मे कीटनाशक दवाओं के छिड़काव का निर्देश भी जारी करता रहता है लेकिन ग्राम प्रधान कीटनाशक दवाओं का छिड़काव कराना तक गंवारा नहीं समझते है। ऐसे हालतो में ही अक्सर संक्रामक बीमारियां महामारी का रूप धारण कर लेती हैं। सीएचसी प्रभारी डॉक्टर पुष्कर कटियार ने गांव के लोगो से अपील करते हुए कहा कि अनावश्यक बरसात का पानी पुराने टायर, गड्ढे, हौज या अन्य जगहों में न जमा होने दें। साफ सफाई का विशेष ध्यान दें। ऐसे उपाय करने से ही संक्रमित बीमारियों से बचा जा सकता है।