ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
पुलिस की काली करतूत खुलकर आई सामने
October 8, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

पुलिस की काली करतूत खुलकर आई सामने

पीड़ित पिता की मौत का सच उजागर के लिए खा रहा दर-दर की ठोकरें
अमौली /फतेहपुर ...चांदपुर थाना क्षेत्र के ग्राम बटगवां में एक आदमी खेत में जब मेड़बंदी कर रहा था तो गाली गलौज करते हुए लाठियों से वार कर दिया जिससे उसकी मौत हो गई और थाना पुलिस धारा 302 के बजाय धारा 151 /2020 धारा 304/ 504 आईपीसी एक्ट के तहत मुकदमा पंजीकृत किया प्राप्त जानकारी के अनुसार चांदपुर थाना क्षेत्र के ग्राम बटगवा के रहने वाले शिवदयाल पिछले महीने के तारीख 4/9/ 2020 के सुबह  9:45 पर खेत में अपने ही खेत से मिट्टी उठाकर मेड़ पर रख रहा था तभी ग्राम चांदपुर थाना चांदपुर के रहने वाले दयाशंकर पुत्र छोटन तोमर हाथ में लाठी लिए हुए आया और गंदी गंदी गाली देते हुए लाठियों से सर पर वार कर दिया जिससे उसकी मौत हो गई मृतक के पुत्र राम बहादुर सैनी ने बताया कि दयाशंकर तोमर ने पिताजी को इतना मारा लाठियों से की पिताजी वहीं पर खेत में गिर गए और पास में हम मौजूद पिता के चिल्लाने पर पहुंचे और उक्त आरोपी मारपीट कर भाग गया तब भाई के साथ पिताजी को उठाकर जैसे ही कुछ दूरी चले पिताजी की मृत्यु हो गई इसके बाद थाना चांदपुर में लिखित तहरीर दिया और थाना चांदपुर पुलिस का खेल देखिए कि आरोपी के साथ गांठ के चलते धारा  302 के बजाय चांदपुर पुलिस के विवेचक ने आरोपी से मिलकर धारा 304 504 आईपीसी एक्ट के तहत मुकदमा को पंजीकृत किया तब पीड़ित आदमी ने जिले के पुलिस  मुखिया प्रशांत वर्मा के यहां अपनी आपबीती सुनाई लेकिन वहां से भी कोई सुनवाई नहीं हुई और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री के यहां भी लिखित तहरीर दिया लेकिन एक महीना से अधिक बीत जाने के उपरांत भी आज तक पीड़ित आदमी को न्याय नहीं मिल रहा है योगीराज में पुलिस की कार्यवाही से हर जगह सरकार की किरकिरी हो रही है लेकिन पुलिस है कि अपना रवैया नहीं बदल पा रही है और पीड़ित को ही डराने धमकाने का काम कर रही है ऐसे में न्याय की अपेक्षा करना बेकार ही साबित होता है!