ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
प्रेगनेंट हैं, तो ये तीन चीज़ें भूलकर भी न खाएं
June 30, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • विशेष

नई दिल्‍ली। प्रेग्‍नेंसी के समय वो 9 महीने हर महिला के लिए बेहद खास और यादगार होते हैं। इस दौरान उसे अपने साथ-साथ गर्भ में पल रहे शिशु का भी खास ध्‍यान रखना होता है। साथ ही डाइट को लेकर भी सतर्क रहना होता है। ऐसा नहीं है कि गर्भावस्‍था में महिला को खूब खिलाया जाना चाहिए, लेकिन डाइट बैलेंस्‍ड और पौषण से भरपूर होनी चाहिए।  

हालांकि, गर्भवती महिला को 9 महीनों में फल, सब्‍ज‍ियों और प्रोटीन से भरपूर खाने की सलाह दी जाती है, लेकिन कुछ ऐसे भी चीजें हैं जिनसे उसे बचकर रहना चाहिए। ये वो चीज़ें हैं जो प्रेग्‍नेंसी में महिला के लिए परेशानी खड़ी कर सकती हैं। जानें गर्भवती महिला को किन फलों के सेवन से बचना चाहिए: 

कच्‍चा पपीता न खाएं 

गर्भ के दौरान महिलाओं को कच्चा पपीता नहीं खाना चाहिए। ऐसा करने से प्रसव जल्दी होने की संभावना बढ़ जाती है। अगर किसी महिला को गर्भकाल का तीसरा या अंतिम माह चल रहा है तो वह डॉक्‍टर की सलाह लेकर पका हुआ पपीता खा सकती है। इसमें विटामिन-सी और अन्य पोषक तत्व होते हैं जो पाचन क्रिया को दुरुस्‍त रखते हैं। 

अंगूर खाने से बचें 

गर्भ की अंतिम तिमाही में महिला को अंगूरों का सेवन करने से बचना चाहिए। असल में इनकी तासीर गर्म होती है जिसके कारण असमय पीड़ा का सामना करना पड़ सकता है।

अनानास का सेवन भी न करें

गर्भावस्था के दौरान गर्भवती महिलाओं को अनानास का सेवन करने से बचना चाहिए। वैसे प्रेग्‍नेंसी के दौरान इसको अगर न ही खाया जाए तो अच्छा है क्योंकि इसके सेवन से जल्दी ही प्रसव होने की संभावना बढ़ जाती है।

ये ज़रूर खाएं  

गर्भवती महिला ताज़े फल और हरी सब्जियों का सेवन कर सकती है। प्रोटीन युक्त भोजन का सेवन भी ऐसी महिलाओं के लिए अच्छा रहता है। मोटे अनाज और चावल का सेवन गर्भ काल में अच्छा रहता है। इसके अलावा वह जो भी खाएं इस बात का ध्यान ज़रूर रखे कि उसमें प्रचुर मात्रा में विटामिन, प्रोटीन और दूसरे पोषण तत्व ज़रूर शामिल हों।