ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
पीड़ित महिला न्याय पाने के लिए खा रही दर-दर की ठोकरें
August 13, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

थाना पुलिस के सहयोग से दबंग कर रहे महिला को परेशान

सीढ़ी सचेण्डी(कानपुर)। योगी सरकार के इस राज्य में महिलाओं का जीना दुश्वार हो गया है और दबंग लोग महिला के घर में घुसकर खुलेआम बदतमीजी व मारपीट करते है । 
 जानकारी के अनुसार कानपुर नगर के थाना सचेंडी के पुलिस चौकी सीढ़ी के अंतर्गत आने वाला गांव सिद्ध पुर की महिला गीता देवी पत्नी नरेश कुमार ने हमारे संवाददाता को बताया कि करीब 1 साल पहले दिनांक 25 /6/2019 को पुरानी खुन्नस के चलते हम अकेले अपने घर पर थी और हमारे ससुर व पति सभी लोग खेत में काम करने के लिए गए हुए थे तो मोहल्ले के ही राघवेंद्र पुत्र निपेंद्र, सुधीर पुत्र किसन ,भूपेंद्र निपेंद्र पुत्रगण प्यारेलाल आदि चारों लोग मेरे  घर में घुसकर हम से बदतमीजी करने लगे तब मैंने इसका विरोध किया तो उक्त चारों लोग हाथ पकड़ कर गिरा दिया और जमकर लात घुसों से मुझे मारा पीटा तब इसकी शिकायत पुलिस चौकी सीढ़ी लेकर गई किंतु वहां तैनात चौकी इंचार्ज ने कोई सुनवाई नहीं किया उल्टा मुझे ही गाली गलौच कर के भगा दिया इसके बाद थाना प्रभारी निरीक्षक सचेण्डी शिकायत लेकर गई वहां भी कोई सुनवाई नहीं हुई और बताया कि न्याय पाने के लिए हमने उच्चाधिकारियों के पास गई तब उच्च अधिकारियों के हस्तक्षेप करने के बाद थाना सचेंडी में मुकदमा हमारा कायम हुआ लेकिन आज तक कोई भी आरोपी थाना पुलिस व सीढ़ी चौकी के पुलिस गिरफ्तार नहीं किया है और विवेचना के नाम पर पुलिस चौकी प्रभारी व थाना प्रभारी ने पीड़िता से रुपए भी ले लिए लेकिन दबंगों के आगे आज तक पुलिस कुछ नहीं कर पा रही है और सोचने वाली बात यह है कि योगीराज में महिलाओं के साथ अगर ऐसा ही होता रहा तो महिलाएं कहां सुरक्षित रह पाएंगे और पुलिस अपना कर्तव्य का निर्वहन नहीं किया तो दबंग लोग खुलेआम महिलाओं के साथ इज्जत बेज्जती करने में नहीं हिचके गे इस कारण पुलिस को भी अपना रवैया बदलना पड़ेगा ।