ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
निजीकरण के विरोध में विद्युत कर्मियों ने किया प्रदर्शन
September 8, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

फतेहपुर। संयुक्त संघर्ष समिति के नेतृत्व में विद्युत वितरण मंडल फतेहपुर के सभी अधिकारी एवं कर्मचारी निजीकरण के विरोध में  जमकर प्रदर्शन किया। इन लोगों ने कहा निजीकरण होने के बाद तमाम उपभोक्ता  बर्बाद हो जाएंगे इन लोगों ने यह भी कहा कि 21 जिले को पूंजीपतियों के हाथों में बेचने का प्रावधान है। धीरेंद्र सिंह यादव जिला अध्यक्ष राज्य विद्युत परिषद उत्तर प्रदेश ने कहा कि आम उपभोक्ता,किसानों को मिलने वाली बिजली महंगी हो जाएगी जिसका सीधा प्रभाव उनके व्यक्तिगत बजट पर  पड़ेगा। इसके स्थान पर विद्युत व्यवस्था सुधार के लिए कदम उठाने चाहिए।  जिला सचिव गजेंद्र सिंह ने कहा के निजीकरण के विरोध में प्रदर्शन जारी रहेगा।धीरेंद्र सिंह ने कहा उत्तर प्रदेश की सरकार ने कई अच्छे कार्य किए हैं जिससे अब आम जनमानस व किसानों को समय पर ट्रांसफार्मर उपलब्ध हो जाते हैं जो पहले नहीं होते थे लेकिन जब निजीकरण हो जाएगा तो स्थितियां बदल जाएंगी। इस अवसर पर उपखंड अधिकारी पवन सिंह, दिलीप कुमार, वैभव आनंद,संजय कुमार,लव-कुश मौर्या,चंद्रेश रायजादा सहित तमाम लोग मौजूद रहे।