ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
नया आदेश : पॉजिटिव मरीज की स्थिति ठीक होने पर छोड़ दिया जाएगा
June 21, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

कोऊ काहू में मगन तो कोऊ काहू में

न्यूज़ ऑफ फतेहपुर

योग-दिवस पर कोई योग में लगा है ताकि योग करते उसे सरकार देख ले तो कोई पितृ-दिवस पर पिता का चरण-स्पर्श में लगा है ताकि उसे जमाना देख ले तो कोई सूर्यग्रहण देखने में लगा है ताकि वह प्रकृति का कोई अद्भुत नज़ारा देख ले तो कोई कोरोना नाम से भयग्रस्त-दौर में क्वारन्टीन एवं आइसोलेशन सेंटरों पर इस इंतजार में लगा है कि कितनी जल्दी उसे डिस्चार्ज सर्टिफिकेट मिल जाए और वह अपने बिछुड़े आशियाने की ओर लौट जाए।

खुद डॉक्टरों की धड़कन बढ़ी है।- कोरोना से लड़ने-भिड़ने में सबसे आगे रहने वाले डॉक्टरों की धड़कनें इन दिनों बढ़ी है। दो दिन के बीच कोरोना गुरिल्ला युद्ध करते डॉक्टरों की टीम पर ही हमला बोल रहा है। दो दिनों के बीच कोरोना ने एक महिला डॉक्टर के बाद तीन मेडिकल स्टाफ को अपनी चपेट में ले लिया है। गैरों को जब लेता था तो लोग डॉक्टर के शरणागत होते रहे । अब डॉक्टर कहां जाएं, समझ नहीं पा रहे हैं। 
फिलहाल सबकी होगी जॉच- मेडिकल स्टाफ के संक्रमित होने पर अब इस वर्ग की जांच A-2-Z कराया जाएगा क्योंकि सब एक दूसरे से नजदीकियाँ रखते हैं । 

ग्रहण से फिलहाल डरा-डरा दिख रहा- सूर्यग्रहण से फिलहाल कोरोना डरा-सहमा दिखा । स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी कोरोना-मारण-मंत्र जपते दिखे । रविवार की सुबह तक कोई केस नहीं आया था ।

नई पालिसी-WHO के निर्देशन में चल रहे कोरोना-उपचार के सिस्टम में 19 जून को शासन ने एक महत्त्वपूर्ण आदेश जारी किया है। यदि कोई पॉजिटिव मरीज है और  आइसोलेट होने के 10 दिन हो गए हों तथा वह सामान्य महसूस कर रहा हो तो बिना दूसरी रिपोर्ट आए उसे छोड़ दिया जाएगा । क्योंकि दूसरी रिपोर्ट में लंबा भी समय लग जाता है। इस परिवर्तित आदेश से अब यह भी संभावना बन रही है कि किसी घर में कोई पॉजिटिव आता है तो जरूरी नहीं कि पूरे घर को क्वारण्टाइन किया जाए । क्योंकि इस स्थिति में घर के पशु आदि को देखने वाला कोई नहीं रह जाता है। पूरे घर को क्वारण्टाइन करने पर यदि छोटा बच्चा निगेटिव हो जाता है तो भी उसे घर भेजने में दिक्कतें आती हैं।

शेम्फोर्ड के समस्त स्टाफ का लिया गया है सैम्पल- यहां 20 जून को दो सफाई कर्मचारी एवं एक ड्राइवर के पॉजिटिव की रिपोर्ट आई थी। इनके लक्षण को देखते हुए 16 जून को जब सैम्पल लिया गया था, उसी दिन सारे डॉक्टर, नर्स और कर्मचारियों की सैम्पलिंग हुई है। इनमें सबकी रिपोर्ट अभी नहीं आई है।