ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
मुख्तार अंसारी की पत्नी और सालों पर इनाम घोषित
October 6, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

मुख्तार अंसारी की पत्नी और सालों पर इनाम घोषित

गाजीपुर पुलिस ने 25-25हजार का इनाम किया घोषित

 लखनऊ।यूपी के मऊ सदर से बाहुबली विधायक मुख्‍तार अंसारी की पत्‍नी आफ्शा अंसारी व मुख्तार अंसारी के साले सरजील रजा व अनवर शाहजहां पर गाजीपुर पुलिस द्वारा 25-25 हजार का इनाम घोषित किया गया
कोर्ट की ओर से जारी एनबीडब्ल्यू वारंट पर हाजिर ना होने के चलते पुलिस ने मुख्तार की पत्नी और दो सालों पर इनाम घोषित किया है
इससे पहले तीनों पर गाजीपुर कोतवाली पुलिस गैंगस्टर में मुकदमा दर्ज कर एनबीडब्ल्यू कार्रवाई कर चुकी है
मुख्तार अंसारी की पत्नी और उनके सालों पर इनाम घोषित होने के बाद पुलिस तलाश में जुट गई है
पुलिस कप्तान डॉ. ओपी सिंह ने बताया कि अपराधिक गैंग आईएस-191 के लीडर मुख्तार अंसारी की पत्नी  और दो सालों के विरुद्ध गैंगेस्टर एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज होने के बाद एनबीडब्ल्यू वारंट जारी किया गया था
कोर्ट द्वारा निर्धारित  तारीख पर नहीं पहुंचने के बाद  तीनों के खिलाफ इनाम घोषित किया गया है
मुख्तार अंसारी की पत्नी आफसा अंसारी व उनके साले सरजील रजा और अनवर शहजाद संगठित आपराधिक गिरोह के रूप में अपराध करते है
शहर कोतवाली के छावनी लाइन स्थित भूमि गाटा संख्या 162 जो कि जिलाधिकारी गाजीपुर के आदेशानुसार कुर्क शुदा जमीन है उस पर अवैध रूप से कब्जा किया गया है
इसके अतिरिक्त थाना कोतवाली मौजा बवेरी में भूमि आराजी नंबर 598 कुर्क शुदा जमीन पर अवैध कब्जा किया गया है।इसके अलावा आरोपी सरजील रजा और अनवर शहजाद द्वारा सरकारी ठेका हासिल करने के लिए फर्जी दस्तावेज तैयार कर प्रस्तुत किए गए, जिस के संबंध में भी थाना कोतवाली में मुकदमा दर्ज करने के बाद विवेचना आरोप पत्र प्रेषित किया गया है।
आरोह आफसा अंसारी द्वारा सरकारी धन के गबन व अमानत में खयानत के आपराधिक कृत्य के संबंध में भी मुकदमा पंजीकृत है।
मुख्तार के बेटों पर पहले ही घोषित हो चुका है इनाम 
बाहुबली मुख्तार अंसारी और उसके दोनों बेटों पर राजधानी पुलिस ने भी कानून का शिकंजा कस दिया है
पुलिस ने उसके दोनों बेटे उमर और अब्बास पर 25-25 हजार रुपये का इनाम भी घोषित कर दिया है
मुख्तार के दोनों बेटों पर इनाम की कार्रवाई हजरतगंज के डालीबाग में सरकारी जमीन पर अवैध निर्माण कराने के मुकदमे में की गई है