ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
मेडिकोलीगल ब्यवस्था शुरू होने पर गुलाबी गैंग लोकतान्त्रिक नें जताई खुशी
October 15, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

*मेडिकोलीगल ब्यवस्था शुरू होने पर गुलाबी गैंग लोकतान्त्रिक नें जताई खुशी*

गिरिराज शुक्ला
फतेहपुर,15 अक्टूबर।
28 माह से  ठप पड़ी मेडिकोलीगल सुविधा पुनः प्रारम्भ होने पर गुलाबी गैंग लोकतान्त्रिक की महिलाओं नें मुँह मीठा कर खुशी का किया इजहार ।विक्ट्री साइन दिखाते हुए जनपदवासियों को दी बधाई ।
अपर निदेशक स्वास्थ्य प्रयागराज मंडल मोहन जी श्रीवास्तव नें कौशांबी के दो रेडियोलॉजिस्ट डॉक्टर राजेश कुमार व डॉक्टर अंकित चित्रांश को फतेहपुर जिला अस्पताल से किया संम्बद्ध।दोनों डॉक्टर तीन - तीन दिन जिला अस्पताल में काम देखेंगे ।जिले की मेडिकोलीगल सुविधा हुई बहाल। 
मेडिकोलीगल समस्या का निवारण हो जाने पर अब गुलाबी गैंग लोकतान्त्रिक जी.टी रोड़ जाम कर नहीं करेगा धरना प्रदर्शन ।  5 अक्टूबर को जिलाअस्पताल में गुलाबी गैंग लोकतान्त्रिक नें प्रदर्शन कर मेडिकोलीगल ब्यवस्था शुरू कराने हेतु शासन,प्रशासन को पंद्रह दिनों का दिया था अल्टीमेटम,अन्यथा की स्थिति में 15 दिन बाद 21 अक्टूबर को  जी. टी रोड जाम करके धरने पर बैठने की  जताई थी बाध्यता ।
गुलाबी गैंग लोकतान्त्रिक अध्यक्ष हेमलता पटेल अपने प्रतिनिधि मंडल के साथ जिला अस्पताल पहुंची ।जनपद में मेडिकोलीगल सुविधा पुनः शुरू होने की खुशी में आपस में एक दूसरे को मिठाई खिला कर खुशी का इजहार किया एवं विक्ट्री साइन दिखाते हुए समस्त जनपदवासियों को बधाई दी । बता दें की जिला अस्पताल  में पिछले 28 माह से किसी भी रेडियोलॉजिस्ट डाक्टर की तैनाती ना होने से मेडिकोलीगल की सुविधा उपलब्ध नहीं थी जिसके कारण घायल मरीजों व मेडिकोलीगल कराने वालों को काफी दिक्क़तों का सामना करना पड़ रहा था। गंभीर चोट की अधिकृत रिपोर्ट प्राप्त करने हेतु लोगों को 100 किलोमीटर दूर  कौशांबी तक जाना पड़ता था और इसके लिए उन्हें  स्वयं से ही वाहन किराया देना पड़ता था,घायलों को कौशांबी पहुँचाने की कोई सरकारी तौर पर सुविधा उपलब्ध नहीं थी इसलिए लोगों पर आर्थिक बोझ भी बढ़ता था और इन सभी समस्याओं का मुख्य कारण जिलाअस्पताल में कोई भी रेडियोलॉजिस्ट डॉक्टर का ना होना था । पूर्व में तैनात रेडियोलॉजिस्ट  मनुगोपाल को भ्रष्टाचार के कारण निलंबित करके जिला अस्पताल से हटाकर मुख्यालय लखनऊ से सम्बद्ध किया गया था तब  से 28 माह बाद  भी  रेडियोलॉजिस्ट का पद खाली रहने से लोगों को अत्यधिक दिक्क़तों का सामना करना पड़ता था । मेडिकोलीगल समस्या के निवारण हेतु गुलाबी गैंग लोकतान्त्रिक अध्यक्ष हेमलता पटेल के नेतृत्व में सैकड़ों महिलाओं  नें 5 अक्टूबर को जिला अस्पताल में  पहुँच कर  जोरदार प्रदर्शन करते हुए राज्यपाल को सम्बोधित ज्ञापन सौंप कर आवाज बुलंद की थी। रेडियोलॉजिस्ट डॉक्टर   की तैनाती  कराये जाने हेतु पंद्रह दिनों का अल्टीमेटम देते हुए  शासन,प्रशासन से पुरजोर मांग की थी अन्यथा की स्थिति में पंद्रह दिन बाद 21 अक्टूबर को जी. टी रोड जाम कर धरने पर बैठने की  बाध्यता जाहिर की थी ।अपर निदेशक स्वास्थ्य प्रयागराज मंडल मोहन जी श्रीवास्तव नें दो रेडियोलॉजिस्ट डाक्टर राजेश कुमार व डॉक्टर अंकित चित्रांश को जिला अस्पताल फतेहपुर से सम्बद्ध कर  मेडिकोलीगल की सुविधा बहाल कर दी है ।जिले मे स्थाई तैनाती होने तक दोनों डॉक्टर तीन-तीन दिन जिला अस्पताल में काम देखेंगे । अध्यक्ष हेमलता पटेल नें कहा की "  मेडिकोलीगल  ब्यवस्था बहाल होने से जनमानस में  अत्यंत खुशी का माहौल है क्योंकि मेडिकोलीगल हेतु अब उन्हें 100 किलोमीटर दूर नहीं जाना पड़ेगा | जनमानस के साथ साथ हम व हमारा सम्पूर्ण संगठन शासन, प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग, प्रेस,मीडिया बंधु, आदि सभी का बहुत बहुत आभार  ब्यक्त करते हैं बहुत बहुत धन्यवाद अंततः हम सभी सफल हुए ।
 इस दौरान अध्यक्ष हेमलता पटेल के साथ सरला सिंह , सुनीता देवी , सुमन , राजरानी, आमना, प्रीती आदि महिलायें मौजूद रहीं ।