ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
महिलाओं के विरुद्ध अपराध में आरोपितों को सजा दिलाने में उत्तर प्रदेश देश में पहले स्थान पर
October 11, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

महिलाओं के विरुद्ध अपराध में आरोपितों को सजा दिलाने में उत्तर प्रदेश देश में पहले स्थान पर

(न्यूज़)।उत्तर प्रदेश की कानून-व्यवस्था को लेकर बेहद गंभीर सीएम योगी आदित्यनाथ के लगातार प्रयास का ही नतीजा है कि उत्तर प्रदेश महिलाओं के खिलाफ अपराध में आरोपितों को सजा दिलाने वाले राज्यों की सूची में शीर्ष पर है। क्राइम इन इंडिया के आंकड़ों के अनुसार उत्तर प्रदेश में अन्य राज्यों की अपेक्षा में महिलाओं के खिलाफ अपराध में कमी आई है और जहां पर इनके खिलाफ अपराध हुए भी हैं तो आरोपितों की तेजी से धरपकड़ की गई है।एनसीआरबी के प्रकाशित क्राइम इन इंडिया के अनुसार महिलाओं के विरुद्ध अपराध में सजा दिलाने में उत्तर प्रदेश देश में पहले स्थान पर है।प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार में मां,बहन तथा बेटियों के गुनाहगारों पर कहर काफी तेज हैं।यहां पर दुष्कर्म के मामलों में पांच अपराधियों को फांसी की सजा मिल चुकी है।इसके साथ ही 193 मामलों में अपराधी आजीवन कारावास की सजा झेल रहे हैं। बीते वर्ष यानी 2019 में महिला संबंधी वादों के कुल 15116 मामले निस्तारित हुए हैं।अपराधी जेल में हैं।प्रदेश में 2016 के मुकाबले 2020 में दुष्कर्म तथा सामूहिक दुष्कर्म के मामलों में 42 फीसदी की कमी आई है।इसके साथ ही महिलाओं के अपहरण के मामलों में 39 प्रतिशत की गिरावट है।