ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
क्षेत्र में संक्रमण बीमारी का प्रकोप देख, स्वास्थ्य विभाग की टीमें पहुंची गांव
September 8, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

अमौली (फतेहपुर)। विकासखंड अमौली क्षेत्र के कई गांवों में संक्रमण बीमारी का प्रकोप लगातार बढ़ रहा है। संक्रमण बीमारी की चपेट में आने से क्षेत्र में कई लोगों की मृत्यु भी हो चुकी है। संक्रमित गांवों में लगातार स्वास्थ्य विभाग की टीम पहुंच रही है और मरीजों की जांच कर रही है। अमौली क्षेत्र के लहुरी सराय, आजमपुर गढ़वा, चांदपुर, बाबूपुर, बेहटी, बुढ़वा आदि गांव में लगातार स्वास्थ्य टीम के द्वारा पहुंचकर मरीजों की जांच की जा रही है।अमौली सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डॉ पुष्कर कटियार के नेतृत्व में पहुंची स्वास्थ्य टीम द्वारा लहुरी सराय में बुखार के 3 मरीज व सर्दी जुखाम के 9 मरीज पाए गए और अमौली क्षेत्र के ही आजमपुर गढ़वा में बुखार के 3 मरीज और सर्दी जुखाम के आठ मरीज पाए गए। चांदपुर गांव में दो बुखार और 42 अन्य बीमारियों के मरीज पाए गए। बाबूपुर गांव में भी बुखार के 4 और अन्य बीमारियों के 8 मरीज पाए गए। बेहटी गांव में बुखार के 3 और अन्य बीमारियों के 8 मरीज मिले। वहीं स्वास्थ्य विभाग की टीम की मानें तो संक्रमित गांवों में मरीजों की जांच कर मलेरिया स्लाइड तैयार कर ली गई है और स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा गांवों में साफ-सफाई को लेकर लोगों को प्रेरित किया जा रहा है।स्वास्थ्य विभाग की मानें तो उनके द्वारा सभी संक्रमित गांव में एंटीलार्वा दवा का छिड़काव भी करवा दिया गया है। लेकिन इससे संक्रमित गांवों में खासा असर देखने को नहीं मिल पा रहा है। वही संक्रमित गांवों के ग्रामीणों से बात की गई तो ग्रामीणों ने बताया कि गांव में स्वास्थ्य टीम द्वारा सिर्फ खानापूर्ति की जा रही है। ग्रामीणों ने बताया कि स्वास्थ्य विभाग द्वारा किए जा रहे जांचों से ग्रामीणों का कोई फायदा नहीं हो रहा है और ना ही दवाओं के छिड़काव से गांव में संक्रमण कम हुआ। ग्रामीणों द्वारा संक्रमित मरीजों का इलाज निजी अस्पतालों में करवाया जा रहा है। परिजन मरीज को इलाज के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में भर्ती करवाना उचित नहीं समझते। स्वास्थ्य विभाग द्वारा मंगलवार को आजमपुर गढ़वा में एंटी लारवा दवा का छिड़काव करवाया गया और बाबूपुर गांव में स्वास्थ्य टीम में पहुंचे डॉ संदीप गुप्ता,प्रदीप, जय प्रकाश,फार्मासिस्ट विनोद आदि के द्वारा लोगों की जांच की गई जिसमें 4 बुखार के व 8 अन्य बीमारियों के मरीज मिले।ग्राम बेहटी में डॉ धर्मेंद्र कुमार चौधरी, राज बहादुर,प्रियंका सचान आदि की टीम द्वारा 3 बुखार और 17 अन्य बीमारियों के मरीज पाए गए।