ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
क्राइम पेट्रोल' देखकर मां ने प्रेमी संग रची बेटे के अपहरण की खौफनाक साजिश, पुलिस भी रह गई हैरान
August 19, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

 
 मुरादाबाद । चर्चित ध्रुव अपहरण मामले का हैरतअंगेज खुलासा हुआ है। इश्क में अंधी हुई ध्रुव की मां शिखा ने ही अपने इस मासूम इकलौते बेटे का अपहरण अपने प्रेमी अशफाक के जरिए करवाया था। इरादा फिरौती की रकम लेकर प्रेमी के साथ फरार हो तेलंगाना में बस जाना था। वहीं एक जिम खोलने की योजना थी। 
पुलिस ने इस मामले के खुलासे का दावा करते हुए ध्रुव की मां शिखा, उसके प्रेमी अशफाक और कार चालक इमरान खान को गिरफ्तार कर लिया है। इनके कब्जे से अपहरण में इस्तेमाल की गई कार और दो मोबाइल बरामद किए गए हैं। सात अगस्त को मुरादाबाद निवासी गौरव के पांच वर्षीय पुत्र ध्रुव का उस समय अपहरण कर लिया गया था। अगले ही दिन अपहर्ता ध्रुव को कौशांबी गाजियाबाद स्थित बस अड्डे पर रोडवेज बस में छोड़ गए थे। ध्रुव तो मिल गया था पर पुलिस अपहर्ताओं को ढूंढ रही थी। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रभाकर चौधरी ने मंगलवार दोपहर अपहरण कांड का खुलासा किया। उन्होंने बताया कि ध्रुव की मां शिखा की तेलंगाना राज्य के जिला निजामाबाद के जलालपुर गांव निवासी मो. अशफाक से दो साल पहले फेसबुक पर दोस्ती हुई थी जो धीरे धीरे इश्क में बदल गई। अशफाक इलेक्ट्रिीशियन है। शिखा और अशफाक मुरादाबाद, मेरठ और रामनगर में कई बार मुलाकात कर चुके हैं। अपहरण की साजिश मां शिखा ने सीरियल क्राइम पेट्रोल देखकर प्रेमी के साथ रची थी। आरोपियों की योजना थी कि फिरौती की रकम लेकर शिखा प्रेमी के पास आएगी और वह कार में बैठकर तेलंगाना चले जाएंगे, जबकि ध्रुव को कपूर कंपनी पुल के पास छोड़ दिया जाएगा। 
इसी के तहत शिखा ने ध्रुव को सात अगस्त की दोपहर खुद तैयार किया और नए कपड़े पहनाकर अशफाक की कार तक पहुंचाया। साथ ही ध्रुव को समझाया कि वह अंकल यानी अशफाक को परेशान न करे। बाद में खुद भी आने का वायदा किया। अशफाक ने भी बच्चे को घुमाने का लालच दिया और उसे लेकर नोएडा के एक होटल में पहुंच गया। बाद में पुलिस ने अपहरण की सूचना पर दबाव बनाया तो घबराकर बच्चे को कौशांबी में छोड़ दिया गया।