ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
कोरोना की जांच की लाइन में संक्रमण की चेन बनने का खतरा, नहीं हो रहा नियमों का पालन
September 24, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

कोरोना की जांच कराने के लिए लग रही लाइन में संक्रमण की चेन बनने का खतरा बढता जा रहा है। कोरोना के नए केस बढने के साथ ही जांच कराने वालों की संख्या बढ रही है। यहां रोजगार कार्यालय में जांच कराने पहुंच रहे कोरोना संदिग्ध लाइन में एक दूसरे से चिपक कर खडे हो रहे हैं। कोरोना संंदिग्ध रिवर्स-ट्रांसक्रिप्शन पॉलिमर्स चेन रिऐक्शन टेस्ट आरटीपीसीआर से कोरोना की जांच कराने के लिए रोजगार कार्यालय पहुंच रहे हैं।

यहां सुबह आठ से शाम छह बजे तक 200 से अधिक संदिग्धों के सैंपल लिए जा रहे हैं। जांच कराने के लिए सुबह से ही लाइन लग रही है। जांच की लाइन में संदिग्ध एक दूसरे से चिपक कर खडे हो रहे हैं। इस लाइन में कोरोना संक्रमित मरीज भी हैं, इनसे कोरोना संक्रमित होने का खतरा बढ रहा है।वहीं, कोरोना संदिग्ध मरीज की जांच कराने के लिए दो से तीन तीमारदार आ रहे हैं। ये भी परिसर में खडे रहते हैं। इनके भी संक्रमित होने का खतरा अधिक है। इससे भी कोरोना संक्रमण की चेन बन रही है।कोरोना संक्रमित मरीजों के संपर्क में आने से उनके स्वजन संक्रमित हो रहे हैं। कोरोना की जांच कराने वालों की संख्या बढ रही है, शारीरिक दूरी का पालन करने के लिए कहा जा रहा है। जांच कराने वालों के साथ दो से तीन लोग आ रहे हैं, इससे ​रोजगार कार्यालय परिसर में भीड लगी रहती है।