ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
कोरोना के चलते मां काली के दरबार में मनाया गया एक दिवसीय वार्षिक उत्सव
October 18, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

कोरोना के चलते मां काली के दरबार में मनाया गया एक दिवसीय वार्षिक उत्सव
---- सीमित लोगों के बीच सीमित समय के अंदर संपन्न हुआ धार्मिक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम
बिंदकी फतेहपुर
नवरात्र में मां के दरबार में पूजा आराधना तथा धार्मिक कार्यक्रमों में कोरोनावायरस पूरा प्रभाव देखने को मिल रहा है मां के दरबारों में एक और जहां श्रद्धालुओं में उत्साह की कमी है तो वहीं दूसरी ओर अधिकांश लोग मास्क लगाकर जा रहे हैं सोशल डिस्टेंस का भी ध्यान रखते हैं इसी के चलते नगर के मां काली जी मंदिर परिसर में प्रतिवर्ष होने वाला तीन दिवसीय वार्षिक उत्सव सीमित रहकर एक दिवसीय वार्षिक उत्सव के रूप में मनाया गया सीमित समय में सीमित लोगों के बीच कार्यक्रम संपन्न हुआ
         नगर के मोहल्ला हजरत पुर ठठराही मैं मां काली जी मंदिर के दरबार में शारदीय नवरात्र में प्रत्येक वर्ष तीन दिवसीय वार्षिकोत्सव धूमधाम के साथ मनाया जाता था भारी भीड़ रहती थी नगर में स्वरूपों का भ्रमण भी होता था गाजे बाजे के साथ इसके अलावा मंदिर परिसर में भी 3 दिनों तक रासलीला का सुंदर मंचन होता था मेले में भारी भीड़ लगती थी लेकिन इस वर्ष मां काली जी के दरबार में होने वाले वार्षिक उत्सव का कोरोनावायरस का पूरा प्रभाव देखने को मिला कोरोना वायरस संक्रमण के चलते मां काली जी मेला कमेटी द्वारा तीन दिवसीय वार्षिक उत्सव को एक दिवसीय वार्षिक उत्सव में परिवर्तित किया गया धार्मिक एवं सांस्कृतिक कार्यक्रम भी सीमित समय में सीमित लोगों के बीच संपन्न हुआ लोगों ने मां काली जी की पूजा अर्चना की प्रसाद चढ़ाकर आशीर्वाद भी पाया इस मामले में भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा के जिला अध्यक्ष और मां काली जी मेला कमेटी के अध्यक्ष मधुराज विश्वकर्मा ने कहा कि करो ना संक्रमण के चलते इस वर्ष तीन दिवसीय वार्षिकोत्सव को एक दिवसीय वार्षिक उत्सव में परिवर्तित किया गया कोरोनावायरस वायरस फैलने  ना पाए इसके लिए सीमित लोगों के बीच सीमित समय में ही धार्मिक कार्यक्रम संपन्न हुआ इस मौके पर काली जी मेला कमेटी के विभोर द्विवेदी राजू द्विवेदी राकेश कुमार अग्निहोत्री श्रीराम कसेरा मयंक कसेरा शुभम विश्वकर्मा सहित तमाम लोग मौजूद रहे