ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
कूड़ा उठाने वाली 200 गाड़ियां भ्रष्टाचार के कारण हो गईं कूड़ा: सौरभ भारद्वाज
November 21, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

कूड़ा उठाने वाली 200 गाड़ियां भ्रष्टाचार के कारण हो गईं कूड़ा: सौरभ भारद्वाज

दिल्ली : आम आदमी पार्टी के मुख्य प्रवक्ता सौरभ भारद्वाज ने भाजपा शासित पूर्वी दिल्ली निगम पर ई रिक्शा की खरीद में करोड़ों रुपये का भ्रष्टाचार करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि भाजपा नेता मनोज तिवारी और महेश गिरी के सांसद निधि से आनन-फानन में करीब 200 ई-रिक्शा तीन गुना से अधिक कीमत में खरीदे गए, लेकिन 2 साल पहले खरीदी गई 200 गाड़ियां खड़ी-खड़ी कूड़े में तब्दील हो रही हैं।
भारद्वाज ने कहा कि सामान्य तौर पर एक ई रिक्शा 60 से 70 हजार में मिल जाता है, लेकिन पूर्वी निगम में यह एक रिक्शा 2.25 लाख रुपये में खरीदा गया है। उन्होंने पूर्वी दिल्ली के सांसद गौतम गंभीर से भी भ्रष्टाचार में अपना रुख स्पष्ट करने के लिए कहा।
भारद्वाज ने कहा कि एक दिन पहले आम आदमी पार्टी के कुछ पार्षदों व सदन के नेता प्रतिपक्ष को बुलाया गया और उनसे समस्या पूछी। तब पार्षदों ने बताया कि पूर्वी दिल्ली के अंदर सबसे बड़ी कूड़े की ही समस्या है। बाजार मोहल्ले, गलियों और चौराहों पर जगह-जगह कूड़े के ढेर लगे रहते हैं और जब कूड़ा उठाने के लिए कहा जाता है तो कर्मचारी कहते हैं कि कूड़ा उठाने के लिए गाड़ियां नहीं हैं। भारद्वाज ने आरोप लगाते हुए कहा कि भाजपा शासित निगम सोची समझी साजिश के तहत दिल्ली को कूड़ा बनाकर रख रहा है, क्योंकि दिल्ली नगर निगम के स्टोर में कूड़ा उठाने की गाड़ियां मौजूद हैं। पूर्वी निगम के पास दो दर्जन नहीं बल्कि कूड़ा उठाने वाले 200 ई-रिक्शा मौजूद हैं।
उन्होंने कहा कि पूर्वी निगम में कोई चेहरा नहीं है क्योंकि, प्रत्येक वर्ष नया महापौर, नए स्थायी समिति के अध्यक्ष बन जाते हैं। ऐसे में सीधा सवाल मनोज तिवारी से है। उन्होंने कहा कि निर्माता से जो गाड़ियों की वारंटी- गारंटी का समय मिला था, अब वह भी खत्म हो गया है। लगभग सभी गाड़ियां पंचर की हालत में खड़ी हुई हैं। इस पर भाजपा के नेताओं को रुख स्पष्ट करना चाहिए।