ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
किसानों को ₹6000 के अलावा हर साल मिलेंगे ₹5,000 नकद भी
September 25, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

 

 

कृषि लागत व मूल्‍य आयोग ने केंद्र सरकार से पीएम किसान सम्‍मान निधि के अतिरिक्‍त किसानों को 5,000 रुपये देने की सिफारिश की है. आयोग ने कहा है कि किसानों को हर साल फर्टिलाइजर सब्सिडी के तौर 5,000 रुपये नकद दिए जाएं।
आयोग ने सिफारिश में कहा है कि ये राशि 2 बार में किसानों के बैंक अकाउंट में सीधे ट्रांसफर की जा सकती है. इसके तहत 2,500 रुपये खरीफ की फसल और 2,500 रुपये रबी की फसल के सीजन में दिए जा सकते हैं।
कृषि उत्पादों के न्यूनतम समर्थन मूल्य पर केंद्र सरकार को सलाह देने वाले आयोग की सिफारिश मानी गई तो तो किसानों को पीएम सम्मान निधि के सालाना 6,000 रुपये के अलावा 5,000 रुपये की फर्टिलाइजर सब्सिडी भी सीधे बैंक अकाउंट में मिलने लगेगी. वहीं, अगर फर्टिलाइजर सब्सिडी सीधे किसानों के खातों में भेजी जाएगी तो केंद्र सरकार अभी कंपनियों को सस्ता फर्टिलाइजर बेचने के लिए दी जाने वाली सब्सिडी खत्म कर सकती है।
फर्टिलाइजर कंपनियों को मिलने वाली सब्सिडी के कारण किसानों को इस समय बाजार में यूरिया और P&K फर्टिलाइजर सस्ते दाम पर मिलता है. इसके एवज में सरकार असल कीमत और छूट के साथ तय कीमत के अंतर के बराबर रकम कंपनियों को दे देती है। सरकार अभी प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि के तहत 3 बार में 2000-2000 रुपये किसानों को देती है. अभी तक 9 करोड़ किसान इस योजना में रजिस्टर्ड हैं. अगर सिफारिश मानी गई तो सरकार फर्टिलाइजर सब्सिडी के साथ हर साल किसानों को 11,000 रुपये देगी।