ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
किसानों के आये बुरे दिन गाव गांव बिचौलिए हुए सक्रिय औने पौने बिक रहा धान
October 27, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

किसानों के आये बुरे दिन
गाव गांव बिचौलिए हुए सक्रिय औने पौने बिक रहा धान

फतेहपुर। देश व प्रदेश की सरकार बनने के पहले देश के प्रधानमंत्री मोदी ने चुनावी सभा को सम्बोधित करते हुए कहा था कि अच्छे दिन आयेगे। 
पांच साल बीत गये पहले नोट बन्दी हुई जिससे किसान, गरीब, रिक्सा वाले लाइन मे लगे किसी वडे आदमी को लाइन में लगते हुए न देखा होगा। फिर जनता ने मोदीजी को प्रधानमंत्री बनाया इस उम्मीद के साथ कि सायद अब अच्छे दिन आ जाय किन्तु हुआ उल्टा अब किसानों के बुरे दिन आ गये है। 
अब केंद्र व प्रदेश की सरकार कह रही हैं कि किसान की आय दोगुनी कर देगे। किसान को अपनी उपज का उचित दाम नही मिल पा रहा है।इस समय मोटे धान की कीमत 900कुन्टल वही पतले धान की कीमत 1200रूपये की दर से चल रहा है।बिचौलियों औने पौने धान खरीद कर मालामाल हो रहे है वही किसान भुखमरी के कगार पर पहुच रहा है।अब किसान की आय दोगुनी होने के वजाय जीरो पर पहुंच रही है।पराली जलाने पर जुर्माने का प्राविधान है किन्तु जो विचौलिये गाव गांव किसानों का धान खरीद रहे हैं उनके खिलाफ सरकार कोई कार्रवाई करने को तैयार नहीं है। ये बिचौलियों 900/मे धान खरीद रहे हैं 1800/मे क्यों नहीं।किसान की लागत तक नही निकल रही है किसान को भी बोनस दिया जाना चाहिए।
सरकार को इन बिचौलियों के खिलाफ एक्शन लेकर थाने मे प्राथमिकी दर्ज कराना चाहिए। जिससें किसानों को फसल का उचित मूल्य मिल सके। सरकार को इस बात पर सख्त कदम उठाना चाहिए कि कोई भी कही का व्यापारी हो किसी गांव में जाकर 1800/रुपये से कम मे धान न खरीदे। किसान को इस समय आवश्यकता है इस समय पैसो की उसकी मजबूरी है उसको जो भी भाव हो गरज मे बेचना पडेगा। कैसे किसान की आय दोगुनी होगी यह सरकार के उपर है।
केवई गांव के किसान व वनपुरवा के वीपी सिंह का कहना है कि जबसे वीजेपी की सरकार आई है किसानों के बुरे दिन आ गये हैं।