ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
कारागार राज्य मंत्री जयकुमार सिंह जैकी के तेवर हुए सख्त   
October 13, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

कारागार राज्य मंत्री जयकुमार सिंह जैकी के तेवर हुए सख्त   

फतेहपुर। कलेक्ट्रेट स्थित गांधी सभागार में मीडिया से रूबरू होते हुए कारागार राज्यमंत्री जय कुमार सिंह जैकी के तेवर सख्त दिखे। उन्होंने जिलाधिकारी से कहा कि पराली जलाने पर किसानों पर मुकदमा हो रहा है तो जो लोग ईट भट्टे में भूसा  जलाकर चिमनी के द्वारा प्रदूषण फैला रहे हैं उनके खिलाफ भी कार्रवाई होनी चाहिए। उन्होंने कहा ईंट भट्ठे का निरीक्षण करके और जो लोग भूसे का इस्तेमाल कर रहे हैं उनके खिलाफ जिला प्रशासन कार्रवाई करें। साथ ही कारागार मंत्री ने कहा अमौली, देवमई,मलवा, खजुआ 4 ब्लॉकों का स्थलीय निरीक्षण करके जहां पर भूसा के बने ईटें खड़ंजा में लगे हैं उनकी रिकवरी कराई जाए और कोयला से बने ईटो को लगवाने का काम किया जाए। वहीं उन्होंने आखिरी आंसू से कहा कि उनके विधानसभा क्षेत्र में हैंड पंप रिबोर, लाइट व टाइल्स के नाम पर घपले की बू आ रही है लाइटों के नाम पर ₹1300 की जगह पर ₹4300 का भुगतान किया गया है उन्होंने जिलाधिकारी को निर्देशित किया कि ऐसे मामलों पर सख्त से सख्त कार्रवाई करें ताकि भविष्य में इस तरीके की घटना की पुनरावृत्ति ना हो सके। उन्होंने कहा खेल मैदान का काम जितनी गति से करने की बात बताई जा रही है स्थलीय निरीक्षण में वह कुछ दिख नहीं रहा है इस पर भी उन्होंने कहा कि अगर अधिकारी व कर्मचारी इस पर सख्त कदम नहीं उठाते तो उनकी शिकायत भी मुख्यमंत्री तक पहुंचाई जाएगी। उन्होंने कहा राज्य वित्त,14वें वित्त के द्वारा प्रधानमंत्री व मुख्यमंत्री के द्वारा बनाई गई कार्य योजना से गांव में  पैसा पहुंचने के बाद ठीक से उसकी मानिटरिंग नहीं हो पाती है उस पैसे से क्या काम हुआ इस पर भी ठीक से मानिटरिंग नहीं होती है। उन्होंने कहा हैंडपंप के रिबोर के नाम पर 30000 से ₹45000 तक खर्च करने का प्रावधान है तो अधिकारी ₹45000 का भुगतान कर देते हैं उन्होंने कहा अब यह सब चलने वाला नहीं है जो लोग इस तरीके की घपले बाजी कर रहे हैं उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने 5 दिन का समय दिया है इसके बाद फिर से वह जिलाधिकारी के साथ बैठेंगे और इन बिंदुओं पर चर्चा करेंगे जहां जहां पर उनके जहानाबाद विधानसभा में घपले बाजी की रिपोर्ट सामने आएगी उन अधिकारियों व कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई तय है। इस अवसर पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी से बात करते हुए उन्होंने कहा की निशेनियां गांव में जिस तरीके से लोगों की मौतें हो रही हैं अभी तक यह नहीं पता चल पाया कि मौतें किन कारणों से हो रही है हालांकि उन्होंने यह भी कहा कि कुछ मौतें डेंगू से हुई है लेकिन स्वास्थ्य विभाग मौत का कारण सही बता नहीं पा रहा है हालांकि मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने मौत का कारण डेंगू टाइफाइड सहित अन्य बीमारी बताया है। उन्होंने सीएमओ को भी फटकार लगाई और मौत का सही कारण पता लगाने को कहा।इस अवसर पर जिलाधिकारी संजीव सिंह भी मौके पर मौजूद रहे।