ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
जिलाधिकारी के निर्देश पर खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग ने बिंदकी तहसील के कई स्थानों पर की छापेमारी
November 10, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

जिलाधिकारी के निर्देश पर खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग ने बिंदकी तहसील के कई स्थानों पर की छापेमारी

फतेहपुर।दीपावली पर्व के दृष्टिगत जिलाधिकारी संजीव सिंह के निर्देश पर खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन विभाग द्वारा खाद्य पदार्थों की  गुणवत्ता सुनिशिचत कराये जाने व मिलावट पर प्रभावी रोकथाम हेतु बिन्दकी तहसील में खोया मंडी ,महराहा रोड एवं मीरकपुर के बाजारों में खाद्य सचल दल द्वारा विशेष छापामार अभियान चलाया गया। 3 खोया के नमूने, काव्या इंटरप्राइजेज से पोला(नमकीन) एवं मीरकपुर स्थित जे के फूडस के कारखाने  से संदिग्ध अवस्था मे पाए गए पोला नमकीन का एक नमूना व पोला मसाला का एक नमूना जांच हेतु संगृहीत किया गया। 100 पैकेट लगभग 29000 रुपये का तैयार पोला नमकीन जब्त किया गया, एक्सपायरी पोला लगभग 6000 रुपये का नष्ट कराया गया। कारखाने में गंदगी पाए जाने के कारण इम्प्रूवमेंट नोटिस जारी की गई।
सदर तहसील में शाह बाजार से सरसो तेल व पनीर के एक  एक नमूने जांच हेतु लिए गए।
इस प्रकार कुल 8 नमूने जांच हेतु संगृहीत कर प्रयोगशाला प्रेषित किये गए।जांच रिपोर्ट के आधार पर आगामी विधिक  कार्यवाही की जाएगी।
बाजारों में मिलावटखोरी रोकने को लेकर खाद्य करोबरकर्ताओ को  सख्त चेतावनी जारी की गई है । मिलावटखोरी के विरुद्ध निरंतर अभियान  चलाया जाएगा, जिससे जनसामान्य को सुरक्षित मिठाई एवं अन्य खाद्य सामग्री की उपलब्धता सुनिश्चित की जा सके। 
उपभोक्ताओं को सलाह दी जाती है कि रंगीन खाद्य पदार्थ विशेषकर चीनी के खिलोने एयर मिठाइयां खरीदते समय चटक रंगों से बचें, उसमें कपड़ा रंगने वाले गऊ छाप आदि अखाद्य रंग  हो सकते है , जो कि  स्वास्थ्य के लिए बहुत हानिकारक होते है। खाद्य रंग कम चमकीले परन्तु स्वास्थ्य के लिए सुरक्षित होते हैं। खाद्य रंग के डिब्बे पर fssai का  लोगो और लाइसेंस नम्बर अंकित रहता है।
किसी भी प्रकार की मिलावट की शिकायत टॉल फ्री नंबर 1800112100 पर दर्ज कराई  जा सकती है।
टीम में जिला अभिहित अधिकारी शशि शेखर , मुख्य खाद्सुरक्षा अधिकारी सी एल यादव, नायब तहसीलदार सिद्धान्त कुमार, खाद्य सुरक्षा अधिकारी गण अरविन्द सिंह, सलिल सिह, रविशेखर, रत्नाकर सिह मौजूद रहे।