ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
झमाझम बारिश के साथ दिल्ली पहुंचा मॉनसून, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट
June 25, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • राष्ट्रीय

नई दिल्ली।

दिल्ली, उत्तराखंड, जम्मू-कश्मीर और लद्दाख समेत उत्तर भारत के कई राज्यों में बुधवार को मॉनसून ने दस्तक दे दी, जिसकी वजह से वहां तापमान में गिरावट दर्ज की गई. गुरुवार को दिल्ली-NCR के कुछ इलाकों में झमाझम बारिश हुई, वहीं मौसम विभाग के मुताबिक कुछ इलाकों में भारी बारिश की संभावना है.

दिल्ली में बारिश ने बढ़ाई परेशानी

दिल्ली के मौसम और बारिश के अनुमान जाहिर करने वाले सेंटर का प्रतिनिधि माने जाने वाले सफदरजंग वेधशाला के आंकड़ों के मुताबिक यहां 14.6 मिमी बारिश दर्ज की और अधिकतम तापमान 34.6 डिग्री सेल्सियस रहा. वहीं, गुरुवार की सुबह का तापमान 37.1 डिग्री सेल्सियस रहा. हालांकि बारिश की वजह से आर्द्रता यानी हवा में नमी का स्तर 100 फीसदी तक बढ़ गया और लोगों को उमस और चिपचिपी गर्मी का सामना करना पड़ा.

भारत मौसम विज्ञान विभाग के क्षेत्रीय पूर्वानुमान केंद्र के प्रमुख कुलदीप श्रीवास्तव ने बताया कि मॉनसून के बादलों की वजह से बुधवार को बारिश हुई. हालांकि, मॉनसून के शहर पहुंचने की घोषणा गुरुवार को होगी. हालांकि, मौसम विभाग ने कहा कि दिल्ली में मॉनसून के आने की घोषणा गुरुवार यानी आज की जाएगी, क्योंकि मौसम वैज्ञानिकों को इसके लिए 24 घंटे के आंकड़ों की जरूरत होती है.

3 दिनों तक बारिश

मौसम विभाग ने राष्ट्रीय राजधानी में गुरुवार को दूररदाज के क्षेत्रों में भारी बारिश होने का अनुमान जताया. सामान्य तौर पर दिल्ली में मॉनसून 27 जून को पहुंचता है. मौसम वैज्ञानिकों के अनुसार अगले 3 दिनों तक बारिश के साथ तापमान के 36 डिग्री सेल्सियस के आसपास रहने की संभावना है.

तेजी से आगे बढ़ा मॉनसून

न्यूज एजेंसी पीटीआई के मुताबिक, मौसम विभाग के एक अधिकारी ने चंडीगढ़ में बताया कि मॉनसून पंजाब के उत्तरी हिस्सों की तरफ भी आगे बढ़ा है और इस वजह से बारिश हुई और तापमान में गिरावट हुई. पड़ोसी राज्य हरियाणा में भी बारिश हुई. सामान्य तौर पर पंजाब और हरियाणा में मॉनसून जुलाई के पहले सप्ताह में आता है.

लद्दाख-कश्मीर में मॉनसून की एंट्री

अधिकारी ने बताया कि गुरुवार को पंजाब और हरियाणा में मॉनसून के आगे बढ़ने के लिए स्थितियां अनुकूल हैं. आईएमडी ने बताया कि मॉनसून उत्तराखंड, जम्मू-कश्मीर, लद्दाख, गिलगित-बाल्तिस्तान और मुजफ्फराबाद की तरफ बढ़ रहा है. बुधवार देर शाम कई पहाड़ी इलाकों में बारिश से तापमान में गिरावट देखने को मिली. हिमाचल के शिमला में भी बारिश हुई.

पंजाब के पटियाला में 34.7 डिग्री सेल्सियस और अमृतसर में 35.2 डिग्री सेल्सियस अधिकतम तापमान दर्ज किया गया. अगले दो दिन में हरियाणा और पंजाब में दूरदराज के स्थानों पर भारी बारिश की संभावना है.

पंजाब-हरियाणा में हुई बारिश

आईएमडी ने बताया कि उत्तर प्रदेश, दिल्ली, हरियाणा और पंजाब के ज्यादातर हिस्सों में गुरुवार को मॉनसून पहुंच जाएगा. हिमाचल प्रदेश में मौसम विज्ञान विभाग ने बताया कि प्रदेश के भी ज्यादातर हिस्सों में बुधवार को बारिश हुई और यहां पिछले साल की अपेक्षा मॉनसून ने जल्दी दस्तक दे दी. आईएमडी ने बताया कि राज्य के तापमान में दो-तीन डिग्री सेल्सियस की गिरावट भी दर्ज हुई.

राजस्थान में भी पहले पहुंचा मॉनसून

राजस्थान के मौसम विभाग के एक अधिकारी ने बताया कि मॉनसून पहले ही दिन 14 जिलों तक पहुंच गया. मॉनसून तय समय से एक दिन पहले ही यहां पहुंच गया है. एक दशक में यह तीसरी बार है जब मॉनसून यहां सामान्य से पहले आया है. मौसम विभाग ने बताया कि मॉनसून उत्तर प्रदेश में अब तक सामान्य है. पूर्वी उत्तर प्रदेश के कुछ स्थानों पर हल्की बारिश हुई.