ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
जल निकासी की समस्या के कारण मेन बाजार खजुहा चौराहा में भरा बरसाती पानी
June 25, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश


तालाबों में अवैध कब्जा मुख्य कारण
बिंदकी फतेहपुर

 नगर में जल निकासी की पर्याप्त व्यवस्था न होने से जलभराव की समस्या बनी हुई है।आज मानसून की पहली बरसात में ही खजुहा चौराहे मेंनगर पालिका परिषद की पोल खुल गई कि इसके रहनुमा कितने जल निकासी के प्रति सजग है। इतना जरूर है कि उमस भरी गर्मी से लोगो को राहत  मिल गई है | आज हुई बरसात से जल भराव के कारण मेन बाजार की दुकानों में बरसात का पानी भर गया है।बरसात का पहला पानी ही जब  दुकानदारों व आमजनों की परेशानी का सबब बन गया है।आगे आने वाली बरसात में नगर के लिए कितनी कठिनाई पैदा करेगी सहज ही अंदाजा लगाया जा सकता है। वैसे तो नगर पालिका प्रशासन में बरसाती पानी निकालने के लिए सफाई कर्मियों को लगा दिया तब कहीं जाकर पानी निकल सका इसका मुख्य कारण एक यह भी है कि तालाबों में लोगों ने कब्जा कर रखा जिससे अब तालाब का रूप छोटा हो गया आखिरकार बरसाती पानी जाए तो कहां जाए। फिर भी नगर पालिका प्रशासन का कहना है कि जल्द ही जल निकासी की समस्या को देखते हुए निदान किया जाएगा
 
 जब भी बारिस आती है खजुहा चौराहा मेन बाजार तक जलाशय का रुप अख्तियार कर लेता है। हर साल बारिश की वजह से जल भराव कि समस्या बृहत स्तर पर हो जाती है ।जिससे दुकानदारों व आने जाने वाले राहगीरों को बहुत ही दिक्कतों का सामना करना पड़ता है | अब सवाल यह उठता है कि इसका जिम्मेदार कौन है? सरकार या नगर पालिका ?
ऐसा नही है कि बरसात पहली बार आई हो ।यह हर साल की समस्या है।जब बरसात आती है तो सभी चिल्लपों मचाते है।बरसात जाते ही सब भूलकर फिर   लोग आम जिन्दगी जीने लगते हैं।
इस समस्या का निदान पालिका को करना चाहिए या सरकार को इसकी जवाबदेही तो होनी ही चाहिए। नगर क्षेत्र में ऐसे जलभराव से  बिजली करंट  पानी में उतर आने की भी आशंका बनी रहती है।अभी बीते दिन खम्भे में बिजली का करंट आ जाने से एक गाय की मौत हो चुकी है। इससे कोई भी हताहत  हो सकता था। इसलिए इस पर कठोर कदम उठाने की जरूरत है जिससे
 जलभराव की समस्या का  त्वरित इसका निदान किया जा सके।  जिससे दुकानदारों के अलावा आमजन को आवागमन में दिक्कतों का सामना ना करना पड़े।