ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
जब अंतिम संस्कार होने के बाद अपने परिजनों के पास पहुँचा मुर्दा
August 8, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश


कानपुर।उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है।दरअसल , यहां अंतिम संस्कार के दो दिन बाद युवक अपने घर लौटा है।युवक के घर लौटने से परिजन हैरत में हैं।मामला चकेरी थाना क्षेत्र का है।यहाँ रहने वाला अहमद पांच दिन पहले लापता हो गया था।परिजनों ने उसे काफी ढूंढने की कोशिश की, लेकिन उसका कुछ पता नहीं चला।आखिर में परिजनों ने अहमद की गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई।अहमद की तलाश में जुटी पुलिस को एक लावारिश लाश मिली पुलिस को सक हुआ कि यह लाश गुमशुदगी में दर्ज हुई अहमद की है इसके बाद पुलिस ने अहमद के परिजनों को सूचना दी परिजन घटना स्थल पर आए और उन्होंने लावारिस मिली लाश को अहमद की होना मान लिया,बाद में घरवालों ने अहमद की लाश समझकर उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया।इस घटना के दो दिन बाद अहमद अपने घर वापस लौट आया।अहमद को देखकर परिजन भी हैरान हो गए।अहमद ने बताया कि वह पत्नी से झगड़े के बाद कहीं चला गया था।बहरहाल, अहमद के घर आने से उसके परिजन खुश भी हैं और हैरान भी।अब सवाल यह उठ रहा है कि आखिर अहमद के घरवालों ने जिसका अंतिम संस्कार कर दिया वो लाश किसकी थी ? बहरहाल, मामले की तफ्तीश जारी है।परिजनों की शिनाख्त पर भी सवाल उठ रहे है कि उन्होंने अपने लखते जिगर को पहचानें में कैसे चूक कर दी।