ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
ICMR का दावा- कोरोना से बचाव में भी कारगर साबित हो सकती है BCG वैक्सीन, बुजुर्गों के लिए भी है असरदार
October 30, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

ICMR का दावा- कोरोना से बचाव में भी कारगर साबित हो सकती है BCG वैक्सीन, बुजुर्गों के लिए भी है असरदार

(न्यूज़)।कोरोना वायरस के खिलाफ अभी लड़ाई जारी है. ऐसी स्थिति में आईसीएमआर ने राहत भरी खबर दी है. आईसीएमआर के वैज्ञानिकों ने इस बात की पुष्टि की है कि ट्यूबरक्लोसिस से बचाव के लिए इस्तेमाल की जाने वाली बीसीजी वैक्सीन अब कोरोना वायरस के खिलाफ भी असरदार साबित हो सकती है. वहीं, बुजुर्गों में इसका ज्यादा असर देखने को मिल सकता है. इस समय वैज्ञानिक बीसीजी वैक्सीनेशन के असर को लेकर टी सेल्स, बी सेल्स, श्वेत रक्त कोशिका और डेंड्रीटिक सेल प्रतिरक्षा पर लगातार जांच कर रहे हैं. इसके अलावा स्वस्थ बुजुर्ग, जिनकी आयु 60-80 साल के बीच की है, उनके पूरे एंटीबॉडी स्तर की भी गंभीरता से जांच कर रहे हैं.

50 साल पहले लॉन्च हुआ  था बीसीजी वैक्सीन
 
60 साल से अधिक उम्र या फिर कोमोरबिडीटीज जैसी गंभीर बीमारियों से पीड़ित बुजुर्गों में कोरोना वायरस के घातक होने का ज्यादा खतरा बना रहता है.  बीसीजी वैक्सीन नवजात शिशुओं को केंद्र सरकार के सार्वभौमिक प्रतिरक्षण कार्यक्रम (यूआईपी) के तहत लगाया जाता है. इसे 50 साल पहले लॉन्च किया गया था. भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद  (आईसीएमआर) ने जानकारी दी कि शोध के दौरान, संस्थान के वैज्ञानिकों ने पाया कि बीसीजी वैक्सीन मेमोरी सेल्स प्रतिक्रियाओं को प्रेरित करता है और बुजुर्गों में कुल एंटीबॉडी बनाता है।