ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
हाथरस निर्भया के परिजनों ने अस्थियां विसर्जित करने से किया इनकार,लोगों के समझाने पर अस्थियां चुनने गए
October 3, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

हाथरस निर्भया के परिजनों ने अस्थियां विसर्जित करने से किया इनकार,लोगों के समझाने पर अस्थियां चुनने गए

(न्यूज़)।हाथरस के चंदपा क्षेत्र में अनुसूचित जाति की बिटिया के साथ हुए दुष्कर्म का मामला अब पूरी तरह से तूल पकड़ चुका है। पहले जो प्रशासन पीड़िता के घर से मीडिया को दूर रख रहा था, उसने आज मीडिया के लिए पीड़िता का गांव खोल दिया है। मीडिया से बातचीत में पीड़ित परिवार ने कई बातें कही हैं। इस दौरान उन्होंने एक चौंकाने वाला बयान भी दिया है। परिवार का कहना है कि वह अस्थियां नहीं लेगा।परिवार का अब हम अस्थियों को उठाने नहीं जाएंगे। उन सभी का कहना है कि पता नहीं किसकी अस्थियां हैं। हमें हमारी बिटिया की शक्ल तक नहीं  दिखाई गई तो हम क्यों वो अस्थियां लेने जाएं।परिजनों ने बेटी की अस्थियां विसर्जित करने से मना करते हुए कहा, जब हमें यही नहीं मालूम कि वह हमारी बेटी है या किसी और को जलाया है। प्रशासन ने बिना चेहरा दिखाए जला दिया तो क्यों हम श्मशान से उसकी अस्थियां लेकर आएं। हमें क्या पता हमारी बेटी का शव है, किसी जानवर का या किसी और का शव है। भाई का तो ये भी कहना है कि हमें तो यही पता है कि हमारी बहन अभी अस्पताल में भर्ती है।लोगों के समझाने पर परिजन अस्थियां लेने गए।वहीं मृतका के भाई ने कहा कि जिसकी भी हो अस्थियां उसकी आत्मा की शांति के लिए हम अस्थियां लेने जा रहे हैं।