ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
ग्राम पंचायत जोगापुर प्रधान की मनमानी
September 11, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

 

रोक के बावजूद प्रधान व चौकीदार विवादित जमीन पर करा रहे हैं बोरिंग

ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से निष्पक्ष जांच करा कर कार्रवाई किए जाने की मांग की

बिन्दकी। तहसील क्षेत्र के ग्राम पंचायत जोगापुर में ग्राम प्रधान व चौकीदार सहित कई लोगों द्वारा सरकारी भूमि अवैध निर्माण किए जाने की जमीनों की शिकायत पर तहसील प्रशासन ने रोक लगा दी थी। दबंग ग्राम प्रधान और चौकीदार प्रशासन को ठेंगा दिखाते हुए विवादित भूमि पर बोरिंग करा रहा है। ग्रामीणों ने जिलाधिकारी से निष्पक्ष जांच करा कर कार्यवाही किए जाने की मांग की है।
विकासखंड  देवमई क्षेत्र के ग्राम पंचायत जोगापुर में ग्राम प्रधान ठाकुर प्रसाद पासवान,  चौकीदार, श्री चंद पासवान ग्राम सभा की भूमि पर अवैध कब्जा करके सरकारी नक्शे में दर्ज आम रास्ता मैं मकान का निर्माण कई दिनों से रात दिन शुरू किए हुए थे जिसकी शिकायत गांव के शिवाकांत मिश्रा ने शासन प्रशासन को की थी तहसील प्रशासन ने हल्का लेखपाल तो मौके में भेज कर जांच कराई । जांच रिपोर्ट में हल्का लेखपाल द्वारा अवैध निर्माण किए जाने की रिपोर्ट तहसील प्रशासन को दी तहसीलदार ने अवैध निर्माण में तत्काल रोक लगा दी
उधर ग्राम प्रधान के पुत्र भानु प्रताप सिंह ने शिकायतकर्ता को धमकी देते हुए उसे अपनी शिकायत वापस किए जाने का दबाव बनाया इतना ही नहीं उससे जबरंग खाली कागज में हस्ताक्षर करा लिए। शिकायतकर्ता का कहना है कि जिस भूमि पर मकान का निर्माण कराया गया है उस रूम में सरकारी अभिलेखों में रास्ता नक्शे में दर्ज है अगर इसमें रोक नहीं लगाई गई तो आम रास्ता में निर्माण हो जाने से आम जनता को आवागमन में भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ेगा। ग्रामीणों में बताया कि ग्राम प्रधान पुत्र प्रधानी कि खुद बागडोर संभाले हुए हैं गांव में मनमानी तरीके से सरकार द्वारा आने वाली कल्याणकारी योजनाओं के नाम पर जमकर धन उगाही करने में पीछे नहीं रहता है यहां तक की कॉलोनी के नाम पर जमकर उगाही किया साथ ही शौचालय में जमकर हेरा फेरी भी किया है तालाबों की खुदाई व सफाई के नाम पर लाखों रुपए की हेराफेरी भी कर चुका है। जिस की निष्पक्ष जांच कराई जाए तो लाखों  रुपए की  गई हेरा फेरी के राज्य उजागर हो सकता है।