ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
गढ़ा किशनपुर सहित कई क्रय केंद्रों पर मनमानी की भेंट चढ़ रहे नियम कानून
November 17, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

गढ़ा किशनपुर सहित कई क्रय केंद्रों पर मनमानी की भेंट चढ़ रहे नियम कानून

धान खरीद में बिचौलिए हावी,किसान घूम रहे परेशान

फतेहपुर- किशनपुर गढ़ा सहित कई धान क्रय केंद्रों पर धान बेचने के लिए किसान परेशान हैं। किसान लगातार क्रय केंद्रों पर दौड़ रहे हैं लेकिन सेंटरों पर मनमानी के चलते किसानों की धान खरीद नहीं हो रही है किसानों का कहना है कि यहां पर बिचौलिए हावी हैं राइस मिलर्स से गठबंधन के कारण उनका धान नहीं खरीदा जा रहा है और धान में विभिन्न प्रकार की कमियां बता कर किसानों को बैरंग लौटाया जा रहा है। हालांकि जिला प्रशासन लगातार दावे कर रहा है और किसान अपने दावे प्रस्तुत कर रहे हैं। किसानों की भीड़ सेंटरों पर साफ देखी जा सकती है जिससे प्रशासन के दावों में अंतर दिख रहा है।
धान खरीद को लेकर किसानों की परेशानी कम होने का नाम नहीं ले रही है। किशनपुर और गढ़ा के क्रय केंद्रों में धान के तौल की गति धीमी होने से खरीद भी सुस्त रफ्तार से हो रही है। एक तरफ धान तौल अभी तक सुचारू रूप से शुरू न होने से किसान काफी परेशान है वहीं दूसरी तरफ केंद्र प्रभारी अपनी समस्याओं का रोना रोने में जुटे हैं। किसानों का आरोप है कि वह लोग अपने धान की तौल के लिए क्रय केंद्रों का चक्कर लगा लगा कर थक चुके हैं। हर बार टोकन देने की बजाय उन्हें बाद में आने के लिए कहा जाता है। किसानों का कहना है कि प्रदेश की सरकार कालाबाजारी रोक पाने में पूरी तरह विफल साबित हो रही है।