ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
एक जनपद एक उत्पाद कार्यक्रम का शुभारंभ
October 7, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

एक जनपद एक उत्पाद कार्यक्रम का शुभारंभ
फतेहपुर 07 अक्टूबर 2020
     उपायुक्त उद्योग, जिला उद्योग प्रोत्साहन तथा उद्यमिता विकास केन्द्र फतेहपुर, एस0 सिद्दीकी ने बताया कि *"एक जनपद एक उत्पाद"(ओ0डी0ओ0पी0) कार्यक्रम* के अंतर्गत जनपद फतेहपुर हेतु चिन्हित *"बेड शीट एवं आयरन फैब्रिकेशन वर्क्स"*  के समग्र विकास हेतु वित्त पोषण में सहायता प्रदान करने के उद्देश्य से "एक जनपद एक उत्पाद" कार्यक्रम के अंतर्गत वित्त पोषण सहायता योजना उ0प्र0 शासन द्वारा प्रारंभ की गयी ।  जिसके अंतर्गत विभिन्न विधाओं में कार्यरत अथवा कार्य करने के इच्छुक व्यक्तियों से ऑनलाइन आवेदन पत्र आमंत्रित किए जाते हैं, योजना अंतर्गत उद्योग/ सेवा /व्यवसाय क्षेत्र (केवल बेडशीट एवं आयरन फैब्रिकेशन वर्क्स से संबंधित) की इकाई हेतु बैंकों के माध्यम से वित्तपोषण (ऋण उपलब्ध) कराया जाएगा ।
√ योजना अंतर्गत रुपया 25.00 लाख तक की कुल परियोजना लागत की इकाइयों हेतु कुल परियोजना लागत का 25 प्रतिशत अधिकतम रुपया 6.25 लाख जो भी कम हो मार्जिन मनी के रूप में दे होगी ।
√ रुपया 25.00 लाख से अधिक एवं रुपया 50.00 लाख तक की कुल परियोजना लागत की इकाइयों हेतु धनराशि रुपया 6.25 लाख अथवा परियोजना लागत का 20 प्रतिशत जो भी अधिक हो मार्जिन मनी के रूप में दे होगी ।
√ रुपया 50.00 लाख से अधिक एवं रुपया 150.00 लाख तक की कुल परियोजना लागत की इकाइयों हेतु धनराशि रुपया 10.00 लाख अथवा परियोजना लागत का 10 प्रतिशत जो भी अधिक हो मार्जिन मनी के रूप में दे होगी ।
√रुपया 150.00 लाख से अधिक की कुल परियोजना लागत की इकाइयों हेतु परियोजना लागत का 10 प्रतिशत 
अधिकतम रुपया 20.00 लाख जो भी कम हो मार्जिन मनी के रूप में दे होगी ।
√उद्यम के 2 वर्ष तक सफल संचालन के उपरांत मार्जिन मनी अनुदान के रूप में समायोजित की जाएगी ।
√सामान्य श्रेणी के लाभार्थियों को 10 प्रतिशत स्वयं के अंशदान के रूप में जमा करना होगा । विशेष श्रेणी (अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति अन्य पिछड़ा वर्ग अल्पसंख्यक, महिला एवं दिव्यांगजन) के लाभार्थियों को कुल परियोजना लागत का 5 प्रतिशत स्वयं के अंशदान के रूप में जमा करना होगा ।
√ आवेदक की आयु 18 वर्ष होनी चाहिए, इसमें शिक्षा की बाध्यता नहीं है । आवेदक किसी बैंक का डिफाल्टर ना हो, भारत सरकार अथवा उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा संचालित किसी अन्य स्वरोजगार योजना का पूर्व में लाभ प्राप्त न किया हो, परिवार में केवल एक सदस्य को ही इसका लाभ दे होगा ।
       योजना अंतर्गत पात्र लाभार्थियों का चयन आवेदन पत्र को स्क्रूटनी के आधार पर उपायुक्त उद्योग द्वारा किया जाएगा । आवेदन केवल ऑनलाइन स्वीकार किए जाएंगे । ऑनलाइन आवेदन http://www.http://diupmsme.upsdc.gov.in की वेबसाइट पर किया जा सकता है तथा ऑनलाइन आवेदन करने की *अंतिम तिथि 25 अक्टूबर 2020* है । अधिक जानकारी के लिए किसी भी कार्य दिवस में कार्यालय, जिला उद्योग प्रोत्साहन तथा उद्यमिता विकास केंद्र, फतेहपुर में संपर्क किया जा सकता है ।