ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
एक दिवसीय दौरे पर आए मंडलायुक्त ने कई विभागों का किया निरीक्षण
August 14, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

 

फतेहपुर। मंडलायुक्त प्रयागराज मंडलप्रयागराज, आर0 रमेश कुमार ने दिन बृहस्पतिवार को एक दिवसीय भ्रमण के तहत प्रभागीय परिसर पौधशाला का निरीक्षण किया । जिसमे वन अधिकारी द्वारा अवगत कराया गया कि पौधशाला में शेष 288598 पौधों में अनार, आम, अमरूद, अर्जुन, इमली, आंवला, कंजी कटहल, नींबू, बेल, लिपिस्टिक, सीसम, सागौन, करौंदा एवं चिलबिल है ।  मंडलायुक्त ने वन विभाग के अधिकारी को निर्देश दिए कि ग्राम प्रधानों को पौधे उप्लब्ध कराये जिससे गौशालाओ व अन्य खाली जमीनों पर  पौध रोपित किये जा सके । नेडप गड्ढे बनवाये और घासफूस को डालकर वर्मी कम्पोस्ट खाद बनाकर पौधों में डाली जाए ।
 इसके उपरान्त मंडलायुक्त ने विकास खंड तेलियानी कार्यालय का निरीक्षण कर समीक्षा बैठक की । उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी से कहा कि रिबोर(243) एवं मरम्मत(131) कराये गए हैण्डपम्पों की 10 प्रतिशत जांच कराई जाए एवं बीएलबीसी में समूह के अध्यक्ष/कोषाध्यक्ष के अभिलेख सहित बुलाये जाए , के अनुसार कार्य उपलब्ध कराकर आजीविका संवर्धन किया जाए । गौशालाओ में गौवंशो के चारे के लिए भूषा, चूनी, चोकर आदि पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है । स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत सामुदायिक शौचालय बनाये गए है के फोटोग्राफी को भी देखा, जिसमे महिला/पुरुष के दरवाजे अलग-अलग है, सभी मे रनिंग वाटर एवं सबमर्सिबल पंप भी लगे है । 1987 वृद्धा पेंशन, 581 निराश्रित महिला पेंशन और 145 दिव्यांगजन पेंशन के पात्र लाभार्थियों को पेंशन दी जा रही है । उन्होंने कम्प्यूटर कक्ष अभिलेख कक्ष में वित्तीय एवं प्रसाशनिक स्वीकृति रजिस्टर, एफटीओ रजिस्टर, मस्टररोल निर्गत रजिस्टर एवं ग्राम विकास अधिकारी अशोक गुप्ता सहित अन्य की जीपीएफ पासबुक को देखा जिसमे अंकन ठीक पाया गया । 
    उन्होंने विकास खंड के सभागार में कोविड-19 हेतु बनाई गई निगरानी समिति के साथ बैठक की । जिसमे ग्राम प्रधानों एवं सचिवों ने बताया कि शासन द्वारा चलाई जा रही विभिन्न योजनाओं से पात्र व्यक्तियों को लाभान्वित किया जा रहा है और मनरेगा के तहत आये हुए प्रवासी मजदूरों को उनके कौशल/दक्षता के अनुसार रोजगार दिया जा रहा है और निःशुल्क राशन उपलब्ध कराया जा रहा है । तथा कोविड-19 के बचाव के लिए पोस्टल, बैनर के माध्यम से प्रचार भी किया गया है और समिति के द्वारा दो गज की दूरी मास्क का प्रयोग, साबुन से बार-बार हाथ धोना एवं नालियों की साफ सफाई, व ब्लीचिंग पावडर का छिड़काव कराया जा रहा है । 
 बैठक में  मंडलायुक्त ने कहा कि सरकार की योजनाओ को समाज के अंतिम पायदान में खड़े पात्र व्यक्ति तक पहुचाने का काम आप द्वारा किया जा रहा है जो सराहनीय है । मा0 मुख्यमंत्री द्वारा कोविड-19 के बारे में लगातार अधिकारियों को अनुश्रवण कराया जा रहा है जिसके अच्छे परिणाम है । स्वच्छता का विशेष ध्यान दिया जाए । विभिन्न विभागों में पंचायतीराज, ग्राम्य विकास विभाग, स्वास्थ्य विभाग, श्रम विभाग द्वारा जन कल्याणकारी योजनाएं चलाई जा रही है कि बारे में ग्राम प्रधानों को जानकारी दी गई । प्रवासी मजदूरों को रोजगार दिया जाये । उन्होंने कहा 60 वर्ष से अधिक आयु के लोग है जिसमे शुगर, कार्डियक, ब्लूडप्रेसर आदि बीमारी से ग्रसित मरीजो की लगातार निगरानी रखी जाए । जनपद में कन्ट्रोल रूम संचालित है जिसमे अनेक अधिकारियों को नामित किया गया है जो लगातार निगरानी कर रहे है । यह बीमारी किसी आयु के व्यक्ति को हो सकती है बचाव ही इलाज है । 
    जिलाधिकारी संजीव सिंह ने कहा कि कोरोना वायरस महामारी में ग्राम प्रधानों का अच्छा सहयोग मिला है । ग्राम प्रधानों द्वारा प्रवासी मजदूरों को स्कूलों में ठहरने की व्यवस्था की गई है और निःशुल्क राशन में गेंहू, चावल दिया जा रहा है , 7000 प्रवासियों के नए राशन कार्ड बनाये गए है । उन्होंने कहा कि बीमारी को छुपाए नही , छिपाने से परिवार के सभी लोग संक्रमित होंगे और मृत्यु भी हो सकती है यदि किसी व्यक्ति को खांसी, बुखार, सांस लेने में दिक्कत हो ऐसे लक्षण प्रदर्शित होने पर नजदीकी अस्पताल में जाकर जांच कराए । उन्होंने कहा क्वारेंटाइन के दौरान कंट्रोल रूम के मध्यम से मरीज के स्वास्थ्य की जानकारी ली जा रही है । विशेष संचारी रोग नियंत्रण अभियान चलाया जा रहा है जिसमे साफ सफाई, जल निकासी, ब्लीचिंग पावडर का छिड़काव कराया गया है ताकि अन्य बीमारी पैर न फैला सके । मनरेगा के तहत विभागों को लक्ष्य दिया गया है जिसमे दक्षता के अनुसार प्रवासियों को कार्य उपलब्ध कराया जा रहा है । जिन ग्राम पंचायतों में पंचायत भवन नही है वहाँ पंचायत भवन बनवाये जा रहे है । उन्होंने कहा कि ग्रामो में दो गज की दूरी व मास्क का प्रयोग करने के लिए प्रेरित करे ।
    मुख्य विकास अधिकारी सत्य प्रकाश ने कहा आप  द्वारा दिये गए निर्देशो का अक्षरशः पालन कराया जाएगा । 
 मंडलायुक्त द्वारा ब्लॉक परिसर में पीपल का वृक्ष रोपित किया गया और स्वयं सहायता समूह द्वारा बनाये गए मास्क, स्कूल ड्रेस, एलईडी बल्ब को देख और भूरी-भूरी प्रसंसा की ।
 इस अवसर पर ब्लॉक प्रमुख प्रतिनिधि राजेश साहू, पुलिस अधीक्षक प्रशांत वर्मा, जिला विकास अधिकारी, पीडी ए0के0 निगम, खंड विकास अधिकारी राबिया बेगम सहित  ग्राम प्रधान व सचिव उपस्थित रहे ।
 इसके पश्चात कलेक्ट्रेट महात्मा गांधी सभागार में कोविड-19 के निम्न बिंदुओं में कंटेन्ट जोन, संक्रमित मरीज की कंटेन्ट ट्रेसिंग, प्रवासी मजदूर की समीक्षा की गई । उन्होंने कहा कि मोहल्ला निगरानी समिति के द्वारा मोहल्लों में प्रचार प्रसार किया जाए और मास्क का शत प्रतिशत प्रयोग, सोसल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन कराया जाए । जिन व्यक्तियों में कोविड-19 के लक्षण दिखी दे सिर्फ उन्ही का टेस्ट कराया जाए । कन्टेन्टमेंट जोन में 05वें दिन जांच कराई जाए । उन्होंने कहा कि जो कर्मचारी ईमानदारी के साथ काम नही कर रहे है उनकी लगातार मॉनिटरिंग की जाए और उच्चाधिकारियों द्वारा दूरभाष द्वारा जानकारी लेते रहे । उन्होंने सीएमओ को निर्देश दिए कि सुपरवाइजर स्तर के कर्मचारियों को मजबूत करना होगा । इस अवसर पर जिलाधिकारी संजीव सिंह, पुलिस अधीक्षक  प्रशांत वर्मा, मुख्य विकास अधिकारी सत्य प्रकाश, उपजिलाधिकारी सदर, खागा, सीएमओ , पीडी सहित स्वास्थ्य विभाग के अनेक अधिकारी उपस्थित रहे ।