ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
एएमयू प्रोफेसर की दूसरी शादी का विवाद फैमिली कोर्ट पहुंचा 
September 17, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

 

दोनों पक्षों को 6 अक्टूबर को अदालत ने बुलाया

अलीगढ़ ।मुस्लिम विश्वविद्यालय में संस्कृत विभाग के प्रोफेसर खालिद बिन यूसुफ और उनकी पत्नी यासमीन खालिद के बीच चले आ रहे विवाद में अलीगढ़ फैमिली कोर्ट ने दोनों पक्षों को 6 अक्टूबर को अदालत ने बुलाया है।यासमीन खालिद ने फैमिली कोर्ट में प्रार्थना पत्र दिया है कि 18 जुलाई 2019 को खालिद बिन यूसुफ द्वारा की गई दूसरी शादी को निरस्त किया जाए।
 यासमीन खालिद ने अदालत में कहा कि उनका निकाह 1995 में खालिद बिन यूसुफ के साथ पूरे रीति-रिवाज के साथ हुआ था।  
शादी के बाद उन्होंने अपने फर्ज को अंजाम दिया।
इसके बाद भी उनके पति खालिद बिन यूसुफ ने 17 जुलाई 2019 को प्रोफेसर समीना जफर के साथ बिना उनसे संबंध विच्छेद किए निकाह कर लिया,जो कि अवैध है।इस संबंध में अलीगढ़ मुस्लिम विश्वविद्यालय भी खालिद बिन युसूफ से सवाल जवाब कर चुका है और जरूरी दस्तावेज मांग रहा है।
अब यासमीन खालिद ने अलीगढ़  फैमिली कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है।