ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
दुश्‍मन के लिए घातक है रूद्रम एंटी रेडिएशन मिसाइल, जानें कैसे करती है ये काम
October 9, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

नई दिल्‍ली (ऑनलाइन डेस्‍क) भारत ने अपनी रक्षा प्रणाली को और अधिक घातक बना लिया है। इसके तहत रूद्रम मिसाइल इसकी एक और घातक मिसाइल बन गई है। इसकी सबसे बड़ी खासियत इसका एंटी रेडिएशन मिसाइल होना है। इसलिए ये दूसरी मिसाइल से अलग है। दरअसल, ये दुश्‍मन के क्षेत्र में लगे सुरक्षा उपकरणों को निष्‍कर्य करती है। इसमें उसके सर्विलांस राडार और दूसरे कम्‍यूनिकेशन सिस्‍टम शामिल होते हैं। इसकी दूसरी खासियत है कि इसको अलग अलग ऊंचाई से लॉन्‍च किया जा सकता है। इसको डीआरडीआ के साथ मिलकर भारत डायनामिक लिमिटेड और भारत इलेक्‍ट्रॉनिक्‍स लिमिटेड ने तैयार किया है।

फिलहाल इसका ट्रायल वायुसेना के लिए किया जा रहा है लेकिन आने वाले समय में ये तीनों सेनाओं के लिए सुनिश्चित की जा सकेगी। हवा से जमीन पर मार करने वाली इस मिसाइल की रेंज 100-150 किमी है। फिलहाल इसका सफल ट्रायल सुखोई 30 एमकेआई से किया गया है लेकिन बाद में इसको मिराज 2000, जगुआर, तेजस से भी लॉन्‍च किया जा सकेगा। इस मिसाइल की तीन श्रेणी हैं जिनमें रूद्रम-1, रूद्रम-2 और रूद्रम 3 शामिल हैं।