ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
दिल्ली में कोरोना मरीजों के लिए होम क्वारनटीन की सुविधा हो सकती है खत्म
June 20, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

नई दिल्ली। दिल्ली में 8500 से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव होम क्वारनटीन मेंMHA चाहता है सभी कोरोना संक्रमित संस्थागत क्वारनटीन हों दिल्ली में कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से फैलता जा रहा है. दिल्ली में कोरोना की रोकथाम का जिम्मा अब केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने संभाल लिया है. इस बीच दिल्ली सरकार के सूत्रों से एक ऐसी जानकारी मिली है जिसके मुताबिक राज्य में अब कोरोना पॉजिटिव लोगों के लिए संस्थागत क्वारनटीन अनिवार्य कर दिया जाएगा. मिली जानकारी के मुताबिक केंद्रीय गृह मंत्रालय चाहता है कि दिल्ली में उस हर व्यक्ति के लिए इंस्टीट्यूशनल क्वारनटीन अनिवार्य कर दिया जाए जिसकी कोरोना टेस्ट रिपोर्ट पॉजिटिव आती है.

इस बाबत केंद्रीय गृह मंत्रालय ने दिल्ली के अधिकारियों से कहा है कि कोरोना के पॉजिटिव मरीजों को 5 दिनों के लिए अनिवार्य क्वारनटीन पर भेजा जाना चाहिए. उसके बाद यदि उनके लक्षणों में सुधार होता है या लक्षण स्थिर रहते हैं तो मरीज को होम क्वारनटीन के लिए वापस भेजा जा सकता है नहीं तो उन्हें सरकारी व्यवस्था के अंतर्गत ही रहना होगा.

दिल्ली सरकार केंद्रीय गृह मंत्रालय के इस विचार का विरोध कर रही है. दरअसल, अब तक असिम्प्टोमटिक या हल्के लक्षण वाले कोरोना मरीजों को होम आइसोलेशन में ही रखा जाता रहा है. दिल्ली में 8500 से अधिक कोरोना पॉजिटिव लोग हैं जो होम क्वारनटीन में रह रहे हैं. अगर यह आदेश पारित हो जाता है तो सभी को सरकारी सुविधाओं में स्थानांतरित कर दिया जाएगा.

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री की हालत बिगड़ी

उधर, दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन की तबीयत बिगड़ गई है. सत्येंद्र जैन को सांस लेने में काफी दिक्कत आ रही है. उन्हें ऑक्सीजन सपोर्ट पर रखा गया है. ताजा जानकारी के मुताबिक सत्येन्द्र जैन को अब प्लाज्मा थेरेपी दिए जाने की तैयारी चल रही है. इसके लिए उन्हें मैक्स हॉस्पिटल, साकेत में शिफ्ट किया जा रहा है. आपको बता दें कि दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री दो दिन पहले ही कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे.