ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
देश को आर्थिक दृष्टि से बलवान बनाने में वैश्य व व्यापारी समाज का योगदान महत्वपूर्ण- सलिल विश्नोई 
August 31, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

 

फतेहपुर। वैश्य समाज का चिंतन सदैव राष्ट्रहित में रहता है वैश्य व व्यापारी समाज देश की रीढ की हडडी है। देश को आर्थिक दृष्टि से बलवान बनाने में वैश्य व व्यापारी समाज का महत्वपूर्ण योगदान रहता है। उक्त विचार प्रकट करते हुये भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष सलिल विश्नोई व विजय शिवहरे ने वर्चुवल मीटिंग के माध्यम से अखिल भारतीय वैश्य एकता परिषद द्वारा सम्मान समारोह में कही। नव मनोनीत प्रदेश उपाध्यक्ष सलिल विश्नोई ने कहा कि भाजपा ने सदैव राष्ट्रहित में चिंतन किया है। भारतीय जनता पार्टी का मूल उददेश्य है कि राष्ट्र निर्माण में राष्ट्र के प्रत्येक नागरिक का योगदान रहे जिससे विश्व स्तर पर भारत का गौरव विश्व गुरू के रूप में हो। उन्होंने वैश्य व व्यापारी समाज की प्रशंसा करते हुये कहा कि वैश्य व व्यापारी समाज का चिंतन व सहयोग रष्ट्रहित में सदैव रहता है। वैश्य व व्यापारी समाज देश के आर्थिक सहयोग राजस्व वृद्धि में महत्वपूर्ण योगदान करता है। नव मनोनीत भाजपा प्रदेश मंत्री विजय शिवहरे ने कहा कि वैश्य व व्यापारी समाज की एकजुटता पर बल देते हुये कहा कि संगठन में शक्ति होती है। इसलिये सभी को एकजुट होकर संगठन को मजबूत करने के साथ साथ डा सुमंत जी के भी हाथों को मजबूत करना होगा। 
परिषद के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा सुमंत गुप्त ने कहा कि भाजपा के नव मनोनीत द्वय पदाधिकारियों का परिषद से काफी पुराना संबंध है। पूर्व में परिषद के बडे बडे सम्मेलनों में सलिल जी का कुशल संचालन व नेतृत्व संगठन को प्राप्त होता रहा है। उन्होंने भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष का आभार प्रकट करते हुये कहा कि उन्होंने संगठन में वैश्य समाज के लोगों को महत्व पूर्ण स्थान प्रदान किया है उसके लिये परिषद उनका सदैव ऋणी रहेगा। चुनाव आने पर व्याज सहित यह ऋण उतारा जायेगा। गुप्ता ने कहा कि आगामी 22 के विधानसभा चुनाव में वैश्य समाज के अधिक से अधिक टिकट दिये जाये जिससे काफी संख्या में वैश्य प्रतिनिधि विधानसभा में पहुंच सके। बैठक का संचालन राष्ट्रीय प्रधान महासचिव विनय अग्रवाल  व आभार राष्ट्रीय महासचिव विनोद कुमार गुप्त ने किया। 
वर्चुवल मीटिंग में प्रमुख रूप से महाराष्ट्र अध्यक्ष राम कृष्ण गुप्त, दिल्ली प्रदेश अध्यक्ष वीरेंद्र गुप्ता, राष्ट्रीय कार्यवाहक अध्यक्ष नरेश महेश्वरी, युवा राष्ट्रीय अध्यक्ष पंकज गुप्त, राष्ट्रीय महिला अध्यक्ष कविता रस्तोगी, उमा गुप्ता अजय गुप्ता संतोष गुप्त, युद्धवीर सिंह, डा ओम प्रकाश गुप्त, संजीव गुप्त, राम स्वरूप गुप्त, शैलेंद्र शरन सिंपल, नरेंद्र गुप्ता, विनय शरण, शिवराम सिंहल,  प्रमोद गुप्ता, अरुण जायसवाल आदि रहे।