ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
चोरी के आरोपी युवक को पुलिस ने मनगढ़ंत ढंग से तमंचा लगाकर भेजा जेल
July 27, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

चोरी के आरोपी युवक को पुलिस ने मनगढ़ंत ढंग से तमंचा लगाकर भेजा जेल
 बिंदकी फतेहपुर नगर के कुंवरपुर रोड स्थित एक मकान में 2 माह पूर्व लगभग 30 लाख की हुई चोरी का पर्दाफाश करते हुए पुलिस ने चार आरोपियों को जेल भेज दिया था जिसमें एक आरोपी को फरार दिखाया गया था जिसकी पुलिस तलाश कर रही थी।
 प्राप्त जानकारी के अनुसार नगर के कुंवरपुर रोड स्थित उपेंद्र सिंह गौतम के घर 2 माह पूर्व लगभग 30 लाख रुपए की चोरी हुई थी जिस पर पुलिस ने चोरी का मुकदमा दर्ज कर मामले की जांच कर रही थी चोरी का खुलासा करने के लिए एसओजी टीम तथा बिंदकी कोतवाली पुलिस संयुक्त रुप से अभियुक्तों की तलाश जारी कर दी जिसमें चोरी करने वाले अभियुक्त शिव गोपाल उर्फ राजा अनिल रैदास संदीप सविता तथा चोरी के आभूषण खरीदने वाले मलवा थाना क्षेत्र के मंझू पुर गांव निवासी ज्वेलर्स फौजी को पुलिस ने उठा लिया और पूछताछ के दौरान चोरी में गए आभूषण खरीदने की बात स्वीकार किया जिस पर पुलिस ने चारों आरोपियों को चोरी के माल सहित गिरफ्तार कर जेल भेज दिया पकड़े गए अभियुक्तों ने रंजिश मानते हुए चोरी की घटना में सहयोग करने वाले बाल गोविंद को भी घटना में शामिल कर लिया पुलिस ने अभियुक्तों द्वारा बताए गए नाम को पुलिस ने फरार घोषित कर दिया अखबारों में छपी खबरों को संज्ञान में लेते हुए परिजनों ने जैसे ही बाल गोविंद का नाम चोरी की घटना में शामिल होना पाया रोजी रोटी कमाने के लिए बालगोविंद गाजियाबाद दिल्ली में मजदूरी करने चला गया था बाल गोविंद के नाना रघुराज डीघ गांव निवासी बाल गोविंद को मोबाइल द्वारा सूचना दिया कि गत दिनों हुई चोरी में नाम आपका आ रहा है आप तुरंत गांव चले आइए बाल गोविंद 21 जुलाई को बस द्वारा गाजियाबाद दिल्ली से बैठकर  घर के लिए चल दिया 22 जुलाई को 11:00 बजे दिन को नाना रघुराज तथा मामा धर्मेंद्र कुमार को सूचना देता है कि हम बिंदकी आ गए हैं रघुराज और धर्मेंद्र कुमार डीघ गांव से बाइक मे आकर बाल गोविंद को अपने साथ ले जाकर बिंदकी कोतवाली में तैनात कांस्टेबल असलम को सुपुर्द कर देते हैं 22 जुलाई से लेकर 2४ जुलाई तक पुलिस बालगोविंद से पूछताछ करती रही पूर्व में  चोरी के आरोपी शिव गोपाल आदि लोगों  द्वारा चोरी किए गए आभूषणों के खाली  डिब्बो का बैग भी पुलिस ने अमेना गांव निवासी राजाराम पासवान  के कुए से बरामद कर लिया और 25 जुलाई को पुलिस ने बाल गोविंद को 315 बोर तमंचा ₹8000 नगद व अन्य सामान दिखाकर जेल भेज दिया जो चर्चा का विषय बना हुआ है।