ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
बिना लाइसेंस के कीटनाशक दवा विक्रेताओं पर होगी कार्रवाई
July 28, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

 

फतेहपुर। जिला कृषि रक्षा अधिकारी सत्येन्द्र सिंह ने बताया कि जनपद में कीटनाशी विक्रेताओं के निरीक्षण के दौरान संज्ञान में आया है कि कतिपय विक्रेताओं द्वारा अवैध रूप से कीटनाशी व्यापार किया जा रहा है । विदित हो कि वैध कीटनाशी लाइसेंस के बिना कीटनाशी व्यापार कीटनाशी  भंडारण बिक्री हेतु प्रदर्शन करना एवं व्यक्तिगत प्रयोग के अलावा सस्थानिक प्रयोग व कमर्शियल पेस्ट कंट्रोल तथा फ्यूमिगेशन का कार्य करना दण्डनीय अपराध है जिसमे जुर्माना कारावास अथवा दोनों हो सकते है। अतः जनपद में कार्यशील सभी विक्रेता पेस्ट कंट्रोल ऑपरेटरो की /एजेंसियों एवं घरेलू उपयोगी कीटनाशी विक्रेताओं को निर्देशित किया जाता है कैबिन सक्षम स्तर से वैध लाइसेंस प्राप्त किये हुए कोई कीटनाशी विक्रय/कंट्रोल का कार्य न किया जाए । कीटनाशी लाइसेंस प्राप्त करने हेतुकरसगी विभाग की वेबसाइट पर जनहित गारंटी लिंक के माध्यम से कीटनाशी लाइसेंस हेतु आवेदन किया जा सकता है । कीटनाशी लाइसेंस विषयक अधिक जानकारी हेतु कार्यालय से संपर्क करे । यदि मिलावटी, नकली, घटिया गुणवत्ता अपंजीकृत, प्रतिबंधित रसायन, निषिद्ध कीटनाशी रसायन तथा अवैध रूप से पेस्ट कंट्रोल व फ्यूमिगेशन का कार्य करते हुए पाया जाता है तो उसके विरुद्ध कीटनाशी अधिनियम-1968 एवं कीटनाशी नियमावली-1971 के अंतर्गत कठोर कार्यवाही की जाएगी ।