ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
बिहार विधानसभा चुनाव के पहले चरण के 35 फीसदी उम्मीदवार करोड़पति
October 21, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

नई दिल्ली,बिहार विधानसभा चुनावों के पहले चरण के लिए उम्मीदवारों के हलफनामे दाखिल करने, उनकी स्क्रूटिनी करने और नामांकन वापस लेने की तारीख खत्म हो चुकी है। पहले चरण की 71 विधानसभा सीटों के लिए 1066 में से 1064 उम्मीदवारों के एडीआर (एसोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स) द्वारा जुटाए गए आंकड़ों के अनुसार, 35 फीसदी यानी 375 उम्मीदवार करोड़पति हैं और उनकी औसतन संपत्ति 1.99 करोड़ रुपये है।

एडीआर के आंकड़ों के अनुसार, राष्ट्रीय जनता दल के 41 में से 39 (95प्रतिशत), जेडीयू के 35 में से 31 (89 प्रतिशत), बीजेपी के 29 में से 24 (83 प्रतिशत), एलजेपी के 41 में से 30 (73 प्रतिशत), कांग्रेस के 21 में से 14 (67 प्रतिशत) और बीएसपी के 26 में से 12 (46 प्रतिशत) उम्मीदवार करोड़पति हैं। इन उम्मीदवारों की घोषित संपत्ति 1 करोड़ से ज्यादा है। पहले चरण की 71 विधानसभा सीटों के 1066 उम्मीदवारों में से 1064 उम्मीदवारों के लिए प्राप्त जानकारियों में सबसे अधिक अमीर मोकामा के अनंत कुमार सिंह है, जो आरजेडी से चुनाव लड़ रहे हैं। इनकी चल और अचल संपत्ति 68 करोड़ रुपये है। वहीं, कांग्रेस के गजानंद शाही इस मामले में दूसरे और जेडीयू की मनोरमा देवी तीसरे नंबर पर हैं। वहीं, पांच उम्मीदवार ऐसे हैं, जिन्होंने अपनी संपत्ति शून्य घोषित की है। मुंगेर से निर्दलीय प्रत्याशी कपिलदेव मंडल, जागरूक जनता पार्टी के अशोक कुमार, राष्ट्रीय स्वतंत्र पार्टी के प्रभु सिंह, एनसीपी के गोपाल निषाद और भारतीय इंसान पार्टी के महावीर मांझी ने अपनी संपत्ति शून्य घोषित की है।

हलफनामे के अनुसार, लोग जनपार्टी-सेकुलर के रिंकू कुमार ने अपनी संपत्ति 2700 रुपये घोषित की है। वहीं, अखिल हिंद फॉरवर्ड ब्लॉक (क्रांतिकारी) ने नौ हजार रुपये और निर्दलीय लालधारी सिंह ने दस हजार रुपये की सम्पत्ति घोषित की है। यहां खास बात यह भी है कि सबसे अधिक संपत्ति वाले अनंत कुमार सिंह की देनदारी भी सबसे अधिक है। उन्होंने अपनी देनदारी 17 करोड़ रुपये घोषित की है। वहीं, आरजेडी के शंभूनाथ यादव ने भी 13 करोड़ से भी अधिक की देनदारी दिखाई है। एडीआर के आंकड़ों के अनुसार, 11 प्रतिशत यानी 116 उम्मीदवारों ने अपना पैन विवरण घोषित नहीं किया है।

पांच करोड़ या उससे अधिक की संपत्ति घोषित करने वाले उम्मीदवारों का प्रतिशत 9 है। जबकि 12 फीसदी उम्मीदवारों की संपत्ति दो करोड़ से पांच करोड़ के बीच में है। वहीं, 50 लाख से दो करोड़ के बीच 28 फीसदी उम्मीदवार हैं। 10 लाख से पचास लाख के बीच 30 फीसदी प्रत्याशी हैं। वहीं 22 फीसदी उम्मीदवार ऐसे हैं, जिनकी संपत्ति दस लाख से कम है।

हर दल के उम्मीदवारों की औसतन संपत्ति इतने करोड़ रुपयेमुख्य दलों में जेडीयू के 35 उम्मीदवारों की औसतन संपत्ति 8.12 करोड़ रुपये है। आरजेडी के 41 उम्मीदवारों की औसतन संपत्ति 6.98 करोड़ रुपये, कांग्रेस के 21 उम्मीदवारों की औसतन संपत्ति 6.03 करोड़ रुपये, एलजेपी के 41 उम्मीवारों की औसतन संपत्ति 4.62 करोड़ रुपये, बीजेपी के 29 उम्मीदवारों की औसतन संपत्ति 3.10 करोड़ रुपये और बीएसपी के 26 उम्मीदवारों की औसतन संपत्ति 1.36 करोड़ रुपये है।