ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
भ्रष्ट लेखपाल की अवैध वसूली का एक और आडियो वायरल
September 6, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

 

पत्रकारों तक को नहीं छोड़ रहे भ्रष्ट लेखपाल और कर्मचारी, दैनिक जागरण पत्रकार से लेखपाल मांग रहा रिश्वत ऑडियो वायरल
 
खागा के लेखपाल का एक और कारनामा, खागा तहसील क्षेत्र के दरियामऊ गांव में तैनात है भ्रष्टाचारी लेखपाल

कई सालों से लगातार निलंबित हो रहे खागा के लेखपाल फिर भी नहीं सुधर रही व्यवस्था

फतेहपुर,योगी सरकार में भ्रष्टाचार बढा खागा तहसील में एक बार फिर लेखपाल की खाऊ-कमाऊ नीति का खुलासा हुआ है। खागा में लेखपालो की अवैध उगाही चरम पर है। आपको बताते चले सामान्य व्यक्ति को छोड़ दीजिए पत्रकारों तक से अवैध उगाही करने में कतई नहीं हिचकिचा रहे हैं। ऐसा ही एक मामला खागा तहसील के दरियामऊ गांव में हुआ है  दरअसल यहां के रहने वाले एक पत्रकार आलोक श्रीवास्तव (दैनिक जागरण बरेली में वरिष्ठ उप संपादक के पद में तैनात है) पिता  विनोद श्रीवास्तव (प्रधानाध्यापक, धाता ब्लाक) का पिछले माह 29 जुलाई को बीमारी के कारण निधन हो गया था। उनके निधन के बाद पत्रकार आलाेक श्रीवास्तव पारिवारिक सदस्यता प्रमाण पत्र निर्गत करवाने के लिए लेखपाल कैलाश शुक्ल के पास गए थे। यहां लेखपाल ने एक सप्ताह तक आलोक का काम नहीं किया। बोले इसमे खर्चा लगेगा । पैसा मांगने का आडियो वायरल होने के बाद तहसील प्रशासन में हड़कंप मच गया है। 
मामला डीएम के संज्ञान में भी कराया गया है। फिलहाल मामले में लीपापोती की जा रही है। दरअसल खागा में वसूली केवल लेखपाल तक ही नहीं सीमित है। यहां वसूली में छोटे स्तर से लेकर बड़े स्तर तक के अधिकारी शामिल हैं। चौकाने वाली बात यह है कि लेखपाल यहां वसूली संगठन के अध्यक्ष आदित्य कुमार  के माध्यम से कर रहे हैं। इस बात का खुलासा भी अाडियो के माध्यम से ही हुआ है, जिसमें स्वयं आदित्य कुमार रुपये मांगने की बात कर रहे हैं उपजिलाधिकारी प्रहलाद सिंह ने बताया कि मामला संज्ञान में आया है जांच कराकर कार्रवाई की जायेगी।