ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
भक्तों के लिए खुले बांकेबिहारी मंदिर के द्वार, दर्शन के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन जरूरी
October 26, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

भक्तों के लिए खुले बांकेबिहारी मंदिर के द्वार, दर्शन के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन जरूरी

(न्यूज़)।रविवार सुबह निर्धारित समय से कोविड-19 गाइडलाइन का पालन कराते हुए भक्तों को मंदिर में प्रवेश दिया जा रहा है। दर्शन के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन जरूरी किया गया है। दर्शन के लिए 24 अक्तूबर से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया शुरू कर दी गई थी। एक दिन में केवल 500 श्रद्धालु ही अपने आराध्य के दर्शन कर सकेंगे। भक्तों के लिए मास्क और सैनिटाइजर आवश्यक है। 
सिविल जज जूनियर डिवीजन गजेंद्र सिंह ने 15 अक्तूबर को बांकेबिहारी मंदिर खोलने के आदेश किए थे। 17 और 18 अक्तूबर को मंदिर खुलने पर अनियंत्रित हुई भीड़ की वजह से 19 अक्तूबर से मंदिर बंद कर दिया गया। यह मामला कोर्ट में गया तो 23 अक्तूबर को सिविल जज ने पूर्व के आदेश का पालन करने को कहा। इस पर मंदिर प्रबंधन ने शुक्रवार की रात 25 अक्तूबर से मंदिर खोलने का निर्णय लिया।
मंदिर प्रबंधक मुनीश शर्मा ने बताया कि कोविड-19 की गाइडलाइन के अनुसार श्रद्धालुओं को दर्शन कराए जा रहे हैं। एक बार में सिर्फ पांच श्रद्धालुओं को मंदिर में प्रवेश की अनुमति है। सुबह आठ से 12 बजे तक 250 श्रद्धालु तथा शाम साढ़े पांच से रात साढ़े नौ बजे तक 250 श्रद्धालु दर्शन करेंगे। 
ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के बाद श्रद्धालुओं को मंदिर में प्रवेश मिलेगा। इसके लिए श्रद्धालु http://darshan.yatradham.org/ShreeBankeBihariTemple.html लिंक पर रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। 24 अक्तूबर को मंदिर की वेबसाइट पर सुबह 11 बजे तक 500 रजिस्ट्रेशन हो गए थे। मंदिर प्रबंधक ने कहा कि श्रद्धालु अपनी सुविधा के लिए आधार कार्ड अथवा कोई पहचान पत्र भी साथ लाएं। 
सिटी मजिस्ट्रेट और सीओ सदर शनिवार को बांकेबिहारी मंदिर पहुंचे। यहां पर निरीक्षण करते हुए पूरी व्यवस्थाएं परखीं। सेवायत, व्यापारियों और संत-महंतों से सहयोग मांगा। दोनों अधिकारी काफी देर से मंदिर में मौजूद रहे।
सामाजिक दूरी का पालन कराने के लिए बांकेबिहारी मंदिर के आसपास गोले बनाए गए हैं। मंदिर के बाहर पुलिस और पीएसी के जवान सुरक्षा व्यवस्था संभाल रहे हैं। परिसर में गार्ड पूरी तरह से मुस्तैद है।