ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
बाढ़ में 13 घंटे पेड़ के सहारे फंसा रहा युवक, एयर फोर्स ने ऐसे किया सफल रेस्क्यू
August 17, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

बिलासपुर,  रतनपुर स्थित खूंटाघाट जलप्रपात के वेस्ट वियर में रविवार शाम नहाने के लिए कूदे तीन युवकों में से एक बहाव के बीच में फंस गया। पुलिस और नगर सेना की टीम देर रात तक युवक को बाहर निकालने के लिए मशक्कत करती रही। सुबह एयर फोर्स के हेलीकॉप्टर की मदद से सफल रेस्क्यू कर उसे बाहर निकाल लिया गया। कई घंटे तक बाढ़ के पानी में एक पेड़ के सहारे फंसे रहने के बावजूद युवक की हालत पूरी तरह सामान्य है और अपने पैरों पर चल फिर रहा है। एहतियातन तौर पर उसे रायपुर के रामकृष्ण अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती कराया गया है। 

छुट्टी का दिन होने के कारण रविवार को खूंटाघाट में शहर समेत आसपास से काफी लोग पहुंचे थे। इसी बीच शाम 5 बजे तीन युवक खूंटाघाट के वेस्ट वियर के पास थे। युवक नहाने के लिए वेस्ट वियर से बह रहे पानी में कूद गए। पानी के तेज बहाव से दो युवक बाहर निकल गए। वहीं, एक युवक बहकर नीचे पहुंच गया। वह एक पत्थर पर उगी झाड़ी को पकड़कर चढ़ गया। इसके बाद लोगों की नजर उस पर पड़ी। किसी ने इसकी सूचना रतनपुर पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुंचकर युवक को बचाने प्रयास शुरू कर दिया। साथ ही इसकी सूचना होमगार्ड के आपदा प्रबंधन टीम (एसडीआरएफ) को दी गई। आपदा प्रबंधन की टीम भी मौके पर पहुंची। देर रात तक युवक को नहीं निकाला जा सका था। 
युवक एक पेड़ के सहारे नदी में बाढ़ के तेज थपेड़ों के बीच फंसा रहा। रात भर उसे बाढ़ से बाहर निकालने के लिए मशक्कत लगी रही। डेम वेस्ट वियर के ऊपर लोगों का जमावड़ा भी लगा रहा। इसके बाद सुबह करीब 6 बजे एयरफोर्स का हेलीकॉप्टर वहां पहुंचा और राहत व बचाव दल के सदस्यों ने युवक को सफलता पूर्वक नदी की धार से बाहर निकाल लिया। युवक को हेलीकॉप्टर से तत्काल रायपुर लाया गया। यहां से उसे उपचार के लिए रामकृष्ण अस्पताल भेजा गया है। बचाव दल के सदस्य और पुलिस कर्मी भी रात भर नदी के किनारे मौजूद रहे और लगातार उस युवक का मनोबल बढ़ते रहे। उसे भरोसा दिलाते रहे कि थोड़ी देर इंतजार करे, उसे सुरक्षित बचा लिया जाएगा।