ALL राष्ट्रीय उत्तर प्रदेश राज्य राजनीति अपराध विशेष विज्ञापन दुनिया कोविड-19 (कोरोना वायरस)
अवैध मिट्टी खनन गिरोह के सरगना समेत पांच गिरफ्तार
August 23, 2020 • ब्यूरो रिपोर्ट - न्यूज ऑफ फतेहपुर • उत्तर प्रदेश

 

बाराबंकी। सतरिख इलाके में बड़े स्तर पर मिट्टी का अवैध खनन कर उसे लखनऊ तक बेचने वाले गिरोह के सरगना समेत पांच लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है। आरोपियों के कब्जे से दो जेसीबी व छह डंपर बरामद किए गए हैं। मालूम हो कि अवैध खनन के मामले में गत दिनों सतरिख थाना प्रभारी को लाइन हाजिर कर दिया गया था।
एसपी डॉ. अरविंद चतुर्वेदी ने बताया कि मिट्टी का अवैध खनन करने वालों के खिलाफ कार्रवाई के लिए बनाए गए स्पेशल स्क्वायड ने शुक्रवार को विनोद यादव निवासी भूहेरा, कोतवाली नगर, राजकुमार निवासी भूहेरा थाना कोतवाली नगर, पंकज यादव निवासी नरायनपुरवा थाना सतरिख, पंकज वर्मा व दीपक वर्मा निवासी महरूपुर थाना कोठी किया। आरोपियों के कब्जे से अवैध मिट्टी खनन में प्रयोग की जाने वाली दो जेसीबी व छह डंपर बरामद किए गए है। एसपी के मुताबिक गत दिनों सतरिख क्षेत्र के ग्राम दाउदपुर में बड़े स्तर पर अवैध खनन होना पाया गया था। दो जेसीबी मशीन और अवैध खनन की मिट्टी को ढोने वाले छह डंपर बरामद हुए थे।
इस मामले में पुलिस ने केस दर्ज किया। इस मामले में प्रभारी निरीक्षक को लाइन हाजिर करने के साथ एक सिपाही व दरोगा को निलंबित कर दिया गया था। एसपी के साथ डीएम ने भी अवैध खनन का स्थलीय निरीक्षण किया। एसपी के मुताबिक जेसीबी और डंपरों के मालिक के सम्बन्ध में जानकारी करने पर पता चला कि विनोद यादव जनपद का एक बड़ा खनन माफिया है। इसके बाद कार्रवाई करते हुए विनोद के साथ उसके गैंग के अन्य लोगों को पकड़ा गया। पुलिस टीम को एसपी ने 10 हजार का इनाम दिया है।
जिले में केवल तीन स्थानों पर मिट्टी खनन की अनुमति प्रदान की गयी हैं। उनमें मनेरा, जाटा बरौली तथा बबुरी हैं। ग्राम दाउदपुर में किया जा रहा खनन अवैध था। पुलिस छानबीन में पता चला कि विनोद यादव से पंकज यादव का संपर्क हुआ। उन्होंने अपने परिवार के 24 खाता धारकों के छोटे-छोटे प्लॉट में अवैध रूप से खनन कराए।